UP Panchayat elections first phase: बवाल के बीच वोटरों का दिखा हौसला 61 फीसदी से अधिक हुआ मतदात

हरदोई में जमकर उपद्रव तो मत पेटी में पानी डालने का प्रयास, पुलिस ने किया बल प्रयोग, उपद्रियों को खदेड़ा यूपी में पंचायत चुनाव के पहले चरण में वोटिंग जमकर हुई लेकिन इस बीच कहीं मारपीट तो कहीं मत पेटी को नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया, वहीं सुरक्षा में लगी पुलिस ने ऐसे लोगों से सख्ती से निपटते हुए चुनाव को सफल बनाने में पुर जोर ताकत लगा दी। पंचायत चुनाव के क्रम में हरदोई जिले में जबरदस्त वोटरो में उत्साह देखने को मिला, वहां शाम तक 60.64 प्रतिशत मतदात हुए। लेकिन यहां पर शाहाबाद विकास खंड की ग्राम पंचायत अतर्जी में मतदान केंद्र के एक बूथ पर फर्जी वोटिंग के आरोप को लेकर गुरुवार की शाम भारी बवाल हो गया। एक प्रत्याशी के पुत्र ने मतपेटी पर पानी फेंक दिया। थाना प्रभारी पहुंचे तो ग्रामीण उनसे भिड़ गए। पुलिस पर पथराव किया गया और कुछ उपद्रवि‍यों ने हवा में फायरिंग भी की, पुलिस फोर्स ने हवा में फायर कर उन्हें खदेड़ा। काफी देर तक हंगामा होता रहा। एडीएम का कहना है कि मतदान के बाद विवाद हुआ था, जिसके चलते मतदान प्रभावित नहीं हुआ। ग्राम पंचायत में प्रधान पद के कुल पांच प्रत्याशी विश्राम, प्रमोद, मंजू देवी, राजेंद्र और रामबिहारी हैं। बेगराजपुर के पास स्थित प्राथमिक विद्यालय अतर्जी मतदान केंद्र पर चार बूथ थे, शाम को बूथ संख्या 87 पर प्रत्याशी राजेंद्र के पुत्र हंसराज गोपालपुर निवासी अमर सिंह और स्वदेश पर फर्जी वोट डलवाने का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे और पानी की बाल्टी मतपेटी पर फेंक दी, देखते देखते दोनों पक्ष आमने सामने आ गए और पथराव होने लगा, जिसमें एक महिला पुलिस कर्मी घायल हो गई। एक तरफ अतर्गी-बेगराजपुर और दूसरी तरफ शिवपुरी और गोपालपुर के ग्रामीण हो गए। थानाध्यक्ष पाली राजेश राय पहुंचे तो अतर्जी -बेगराजपुर के लोग उन्हें खेतों में घेरकर हाथापाई करने लगे। सीओ महावीर सिंह व एएसपी कपिल देव सिंह फोर्स पहुंचे, वह पानी डालने वाले बेगराजपुर निवासी हंसराज के घर दबिश दी, वह तो नहीं मिला, लेकिन पुलिस ने उसके घर में मौजूद एक व्यक्ति को पकड़ लिया। पुलिस जैसे ही उसे लेकर चली तो बेजराजपुर के ग्रामीण जमा हो गए, उनके साथ अतर्जी के भी लोग आ गए और पुलिस टीम पर पथराव करने लगे, जिसमें पुलिस कार्यालय में तैनात एसआई बनवाली लाल गुप्ता, पीएसी के जनार्दन सिंह समेत चार पुलिस कर्मी घायल हो गए। वहीं कानपुर नगर के कल्याणपुर ब्लॉक के कुरसौली गांव में शंकर कुरील ने पहला वोट डाला। घाटमपुर में भीतरगांव के जसरा गांव में बीडीसी प्रपत्र ना आने के कारण मतदान रुका हुआ है। प्रत्याशियों ने बीडीसी मतदान पत्र आने तक के लिए वोटिंग को रोक रखा, िजससे समय की बर्बादी हुई। वहीं रायबरेली मे कुछ बूथों पर धक्कमुक्की की शिकायतें सामने आयी, लेकि मौजूद पुलिस बल ने स्थिति को काबू में कर लिया। इसके अलावा गोरखपुर में खजनी थाना क्षेत्र के मिश्रौलिया गांव का मामला। दो पक्षों में विवाद के बाद फायरिंग हो गयी। इस दौरान तीन राउंड फायरिंग की गई। फायरिंग में पूर्व प्रधान और वर्तमान प्रत्याशी 50 साल के राघवेंद्र दुबे को गोली लग गई। उनकी हालत नाजुक बनी हुई है।

इन जिलो में ये रहा वोटिंग का प्रतिशत

-रायबरेली 60 प्रतिशत
-अयोध्या में 61 प्रतिशत
गोरखपुर 57.22 एक अधिकारी की मौत
हरदोई का 60.64 प्रतिशत
कानपुर नगर 59

पाली थाना क्षेत्र में कुछ उपद्रियों ने हंगामा करते हुए मत पेटियों में पानी डालने का प्रयास किया था, जिसके बाद मौजूद पुलिस बल ने उन्हें खदेड़ा और इसमें कुछ पुलिस कर्मी भी घायल हो गये।
अनुराग वत्स एसपी हरदोई