यूपी बोर्ड परिणाम- लखनऊ में बेटियां आगे, 10वीं में अलमास तो 12वीं में कीर्ति रही सिटी टॉपर

हाईस्कूल की सिटी टॉपर अलमास और इंटरमीडिएट की सिटी टॉपर कीर्ति सिंह

लखनऊ। यूपी बोर्ड हाईस्कूूल और दसवीं और बारहवीं के नतीजे रविवार को घोषित कर दिए गये। पिछले साल की अपेक्षा इस साल के परिणाम में गिरावट देखने को मिली। फिर भी हर साल की भांति इस बार भी लखनऊ में परिणाम पर बेटियों का दबदबा रहा। जारी परिणाम के मुताबिक लखनऊ में इस बार दसवीं की परीक्षा में अलमॉस ने 93.67 प्रतिशत अंक प्राप्त कर लखनऊ में पहले स्थान पर कब्जा जमाया है। जबकि आदिति वर्मा 92.5 फीसदी के साथ दूसरा स्थान प्राप्त किया है। दूसरे स्थान पर ही मिताली सिंह भी 92.5 फीसदी अंको के साथ काबिज रही। अलमॉस लखनऊ पब्लिक स्कूल राजापुरम की छात्रा हैं। वहीं इंटरमीडिएट में एसकेडी एकेडमी में पढऩे वाली छात्रा कीर्ति सिंह 91.80 फीसदी अंको के साथ लखनऊ की सिटी टॉपर हैं। जबकि लखनऊ पब्लिक स्कूल से अंकुश सोनकर 459 नंबरों के साथ दूसरे स्थान पर हैं। हालांकि लखनऊ पब्लिक स्कूल्स एण्ड कॉलेजेज़ के यूपी बोर्ड हाईस्कूल में 7 विद्यार्थियों ने 90 प्रतिशत से अधिक अंक तथा 16 विद्यार्थियों ने 85 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये। इण्टरमीडिएट के 4 विद्यार्थियों ने 90 प्रतिशत से अधिक अंक तथा 27 विद्यार्थियों ने 85 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त किये। वहीं एस.के.डी. एकेडमी इण्टर कालेज यूपी बोर्ड का हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट- 2018 का परीक्षा परिणाम प्रत्येक वर्ष की भाँति इस वर्ष भी शत-प्रतिशत रहा। विद्यालय की कीर्ति सिंह ने 91.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रदेश में 5 वॉ स्थान व लखनऊ में प्रथम स्थान प्राप्त कर विद्यालय का नाम रोशन किया, रीतू यादव ने 90.2 प्रतिशत अंक प्राप्त कर उत्तर प्रदेश में 11वें लखनऊ में तीसरे स्थान पर रही विद्यालय में द्वितीय एवं अंजली वर्मा व सुरभी सिंह ने 88.2 प्रतिशत अंक प्राप्त कर विद्यालय में तृतीय स्थान प्राप्त किया। विद्यालय की शिवानी सिंह ने 90.3 प्रतिशत अंक प्राप्त कर हाईस्कूल में विद्यालय में प्रथम, अंशिका राठौर ने 88.8 प्रतिशत अंक प्राप्त कर विद्यालय में द्वितीय, दिव्या सैनी ने 66.6 प्रतिशत अंक प्राप्त कर विद्यालय में तृतीय एवं अनामिका वर्मा ने 85.5 प्रतिशत अंक प्राप्त कर विद्यालय में चतुर्थ स्थान प्राप्त किया। साथ ही इन सभी विद्यार्थियों ने अपने नाम के साथ-साथ अपने माता-पिता व विद्यालय का नाम जनपद में ही नहीं वरन् पूरे प्रदेश में गौरवान्वित किया है। विद्यालय के इण्टरमीडिएट एवं हाई स्कूल के 100 प्रतिशत विद्यार्थी प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण हुए। जिसमें 60 प्रतिशत विद्यार्थी ससम्मान उत्तीर्ण हुए।

सम्मानित होंगे एसकेडी के सभी मेधावी-एसकेडी सिंह
परिणाम आने के बाद एसकेडी एकेडमी के संस्थापक एसकेडी सिंह ने कहा कि सभी मेधावयिों को संस्था की ओर से सम्मानित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सभी सफल विद्यार्थियों ने अपनी सफलता का श्रेय ईश्वर, अपने माता-पिता, प्रधानाचार्य, अध्यापक-अध्यापिकाओं व विद्यालय प्रबंधन को दिया। समय-समय पर मिलने वाले होम असाइन्मेन्ट, प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हेतु होने वाली कक्षाएं टेस्ट सीरीज, अध्यापकों द्वारा प्रदान किये जाने वाले नोट्स आदि की सराहना की, जिन्होंने उपरोक्त विद्यार्थियों को सफलता का पथ दिखाया। सभी सफल विद्यार्थी भविष्य में आई.ए.एस. ऑफीसर, इंजीनियर व डॉक्टर बनकर देश की सेवा तो करना ही चाहते हैं। साथ ही सभी एक अच्छे नागरिक बनकर देश की उन्नति में भागीदार बनने का भाव दिल में रखते हैं। उन्होंने सभी सफल बच्चों को बधाई भी दी।
जितना लक्ष्य महान हो जीवन में उतनी ही पूर्णता-एसपी सिंह
परिणाम आने के बाद एलपीएस के प्रबंधक एसपी सिंह ने कहा कि लक्ष्य जितना ही महान होता है, जीवन में उतनी ही पूर्णता आती है।’’ अत: अपने लक्ष्य को इतना महान बना दो कि व्यर्थ के कार्य के लिए समय ही न रहे। उन्होंने आगे कहा- ‘‘विश्वास वह शक्ति है जिससे उजड़ी हुई दुनियां में प्रकाश लाया जा सकता है। अपने अन्दर छिपी विशेषताओं का प्रयोग करो, इससे जीवन के हर कदम में प्रगति का अनुभव होगा। सफलता प्राप्त करने के लिए आपको उस तक पहुंचने का निरंतर प्रयत्न करना होता है। जीवन एक प्रतिस्पर्धा है, जिसके लिए आपको लगातार प्रयास करना होगा।’’ अगर आप लोग आज पेड़ की छांव में बैठे हैं तो इसकी वजह है कि आपके शिक्षकों ने बड़ी मेहनत से इस पेड़ को लगाया व सींचा है। साथ ही उन्होंने उन विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों को भी बधाई दी जिन्होंने आई.आई.टी. एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हुए संस्था का नाम रोशन किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one + thirteen =