लखनऊ विश्वविद्यालयों में पढ़ने वालों को राहत, ऑनलाइन दर्ज होंगी शिकायत

लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय में छात्रो को अब परेशान नहीं होना पड़ेगा। छात्र अपनी हर समस्या को ऑनलाइन दर्ज करवा सकेंगे। हर छात्र की शिकायत पर तत्काल एक्शन भी लिया जायेगा। इसके लिए लविवि की ओर से एक वेबपोर्टल शुरू कर दिया गया है। ऐसे में अब छात्र अपने मोबाइल से ही पोर्टल पर शिकायत दर्ज कर सकेंगे। लविवि में डाटा रिसोर्स सेंटर के निदेशक प्रो. अनिल मिश्र ने स्टूडेंट व फैकल्टी डाटा को लेकर एक बैठक के दौरान ये जानकारी दी है।
छात्रों को वेरिफिकेशन के लिए नहीं होगी दिक्कत
बैठक के दौरान तय हुआ कि जो छात्र एक बार दाखिला ले लेते हैं उनको अगली कक्षा में पहुंचने पर अपना हर बार वेरीफिकेशन के लिए इधर उधर नहीं भागना पड़ेगा। इसके लिए ऑनलाइन वेरीफिकेशन की सुविधा विभागों, डीन कार्यालयों सहित विभिन्न कार्यालयों में उपलब्ध रहेगी। इसके अलावा विद्यार्थियों को आगे काउंसिलिग फार्म भी नहीं भरना होगा। अभी इस वर्ष से लविवि छात्रों का डाटा ऑनलाइन होने से उन्हें परीक्षा फार्म भरने से मुक्ति मिल गई है।
छात्रों को दिया गया लॉगिन और पासवर्ड
प्रो. अनिल मिश्रा ने बताया कि वर्तमान सत्र में सभी छात्रों का डाटा ऑनलाइन कर उन्हें लॉगिन व पासवर्ड दे दिया गया है। नए सत्र से दाखिले की काउंसिलिग के समय ही उन्हें लॉगिन व पासवर्ड मिल जाएगा इससे वह अपना सारा डाटा ऑनलाइन देख सकेंगे। वह अपने डाटा का ऑनलाइन करेक्शन कर सकते हैं।
ऑनलाइन करेक्शन सुविधा से ये होगा फायदा
छात्रों को फार्म भरने के साथ ऑनलाइन करेक्शन का मौका मिलने के बाद एक बड़ी राहत भी मिलेगी। इससे उन्हें परीक्षा विभाग में मार्कशीट व डिग्री आदि में नाम का करेक्शन करवाने के लिए दौड़ना नहीं पड़ेगा।
ऑनलाइन छात्रों को ये भी रहेगी सुविधा
-मोबाइल पर परीक्षा परिणाम देखा जा सकेगा
-हॉस्टल की फीस की भी जानकारी मिलेगी।
-लाइब्रेरी का ड्यूज है तो जानकारी समय पर मिलेगी।
-स्कॉलरशिप की भी आसानी से मिलेगी जानकारी
-छात्रों को ऑनलाइन डाटा का आफिसर आराम से कर सकेंगे प्रयोग
-अनुशासनहीनता में सजा पाये छात्रों का भी ब्योरा ऑनलाइन होगा
-प्राक्टर की ओर से की गई कार्रवाई का भी ब्योरा ऑनलाइन रहेगा।
-यहां तक सभी डिग्री कॉलेजों के छात्रों का भी डाटा आनलाइन रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five + three =