नशे में धुत सिपाहियों ने होटल में मचाया उत्पात, फ्री में लिया कमरा, सस्पेंड

लखनऊ। आलमबाग स्थित मैट्रो होटल फ्री कमरे के लिए सिपाहियों जमकर उत्पात मचाया और उनकी करतूत सीसी टीवी में कैद हो गयी। सिपाही और उसके दोनो साथियों को होटल के कर्मचारियों ने समझाने का प्रयास किया लेकिन बात नहीं बनी। तीनों सिपाही नशे में धुत में थ्ो। सिपाहियों में से गोपाल गिरि (सीओ आलमबाग संजीव सिहा का चालक), गनर कमलवीर सिह और हमराह प्रदीप शर्मा है। जिनकी तस्वीर हंगामा करते हुए सीसी टीवी में कैद हुई है। सीसी टीवी फुटेज के आधार पर एसएसपी दीपक कुमार ने तीनो सिपाहियों को निलंबित करते हुए एएसपी पूर्वी सर्वेश कुमार मिश्र को सौंपी गयी है।
होटल मैनेजर रमेश ने पुलिस को बतायी आपबीती
होटल मैनेजर रमेश यादव के ने पुलिस को बताया। कि रविार की रात 11:15 बजे तीनों सिपाही अपने दो दोस्तों योगेश और शिवा के साथ होटल आए और दोनों दोस्तों को फ्री में रूम देने को कहा। रमेश यादव ने बताया कि विरोध पर आरोपित पुलिस कर्मचारियों ने उन्हें धमकी दी। डर के कारण होटल कर्मियों ने द्बितीय तल पर कमरा नंबर 2०7 की चाभी दे दी। इसके बाद सिपाही अपने साथियों के साथ कमरे की तरफ जाने लगे।
कमरा नंबर 2०1 से शुरू हुआ विवाद
होटल मैनेजर रमेश के मुताबिक आरोपित कमरा नंबर 2०1 का दरवाजा पीटने लगा। कमरे में मौजूद फैजाबाद निवासी मनोज शर्मा ने दरवाजा खोला, मनोज के साथ एक युवती भी थी जो मनोज की बहन थी और अपने भाई का इलाज कराने आयी थी। जिसके बाद पुलिसकर्मी उन्हें उठाकर थाने ले गए, जिसकी जानकारी पाकर होटल मालिक सुशील अबरोल और उनका बेटा आदित्य वहां पहुंच गए।
झूठे मुकदमें दी फंसाने की धमकी
होटल मैनेजर के मुताबिक पुलिस ने होटल मालिक और कर्मचारियों को झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी दी। और सिपाहियों ने पूरी रात थाने में रमेश की पिटाई की। सोमवार सुबह आरोपितों के खिलाफ तहरीर दी तो सीओ ने अपने कमरे में बुला लिया और उनसे सीसीटीवी फुटेज डिलीट करने को कहा।
24 घंटे में देनी होगी रिपोर्ट
एसएसपी ने जांच के आदेश एएसपी पूर्वी को दिए हैं। जिसका समय भी तय कर दिया गया है। 24 घंटे में देनी रिपोर्ट होगी  एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि जांच में दोषी पाये जाने पर दोषियों को बर्खास्त किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − 15 =