सहायक अध्यापक भर्ती के लिए होने वाली परीक्षा पर रोक

लखनऊ। बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से आयोजित होने वाली 12 मार्च को सहायक अध्यापक भर्ती परीक्षा को फिलहाल रद्द कर दिया गया है। लिखित रूप से होने जा रही इस परीक्षा के दौरान साल्वरों से निपटने का जिम्मेदारी एसटीएफ को सौंपी गयी थी। अब ये परीक्ष अगले आदेश तक स्थगित रहेगी।
दरअसल कोर्ट में शुक्रवार को सुनवाई हुई। जिसमें शिक्षक पात्रता परीक्षा 2०17 की उत्तर कुंजी निरस्त करने, 12 प्रश्न प्रश्न पत्र से हटाने और नई वरियता सूची जारी करने के उच्च न्यायालय के लखनऊ के आदेश के खिलाफ डबल बैंच में की गई अपील पर विभाग को किसी भी सूरत में राहत नहीं मिल पायी। ऐसे में जानकारी देते हुए परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव सुत्ता सिंह ने बताया कि परीक्षा को अंतिम आदेश तक रद्द किया गया है।

ये है पूरा प्रकरण
-15 अक्टूबर 2०17 को टीईटी आयोजित की गयी।
-इसमें कुल 3,49,192 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था।
-जिसमें 2,76,636 अभ्यर्थियों ने परीक्षा दिया था।
-विभाग की ओर से 15 दिसंबर 2०17 को परिणाम जारी किया गया
-इसमें प्राथमिक स्तर के 47,975 अभ्यर्थी पास हुए।
– उच्च प्राथमिक स्तर के लिए 6,27,528 अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था।
– इसमें 5,31,712 अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी और 41,888 अभ्यर्थी सफल हुए।

कोर्ट में गलत प्रश्नों को लेकर अभ्यर्थियों ने दी थी चुनौती
परीक्षा हो गयी परिणाम भी घोषित हो गये लेकिन उसके बाद अभ्यर्थियों ने 12 प्रश्नों को ही गलत ठहरा दिया और लखनऊ उच्च न्यायालय में इन प्रश्नों के लेकर विभाग को चुनौती दी। जिसके बाद उच्च न्यायालय ने 6 मार्च को 12 प्रश्नों को उत्तर गलत ठहराते हुए सरकार को दोबारा उत्तर कुंजी जारी करने, प्रश्न पत्र से 12 प्रश्नों को हटाते हुए अभ्यर्थियों को बोनस अंक देने और नई वरियता सूची जारी करने का आदेश दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 − 1 =