दिल्ली में स्थिति नियंत्रण से बाहर, लॉकडाउन की तैयारी, अस्पतालो में बेड हुए फुल

दिल्ली में कोरोना महामारी (COVID-19) नियत्रंण से बाहर है। अस्पतालो मे बेड फुल हैं, वहीं दिल्ली अब लॉकडाउन के करीब है। यहां कोविड-19 आईसीयू बेड्स की सुविधा वाले 94 में से 69 अस्पतालों में इस प्रकार के सारे बेड्स भर गए हैं और केवल 79 बेड्स ही खाली हैं। एक आधिकारिक ऐप में दिए गए आंकड़ों में बुधवार को यह जानकारी सामने आई। दिल्ली कोरोना ऐप के अनुसार, दोपहर दो बजे तक 110 अस्पतालों में से 75 में बिना वेंटिलेटर वाले सभी कोविड-19 आईसीयू बेड्स भरे थे। वेंटिलेटर वाले 1,177 कोविड-19 आईसीयू बेड्स में से केवल 79 खाली थे, जबकि बिना वेंटिलेटर के 2,130 कोविड आईसीयू बेड्स में से 348 खाली थे। इसके अलावा कुल 13,680 बेड्स में से 9,041 भरे थे। महामारी की चौथी लहर का सामना कर रही राजधानी में मंगलवार को संक्रमण के 13,468 नए मामले सामने आए और 81 मरीजों की मौत हो गई।  दिल्ली कोरोना ऐप के अनुसार, राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, सफदरजंग अस्पताल, बीएसए अस्पताल और मैक्स पटपड़गंज समेत 69 अस्पताल ऐसे हैं जहां वेंटिलेटर वाले कोविड आईसीयू बेड्स खाली नहीं हैं। ऐप के अनुसार, अपोलो अस्पताल और शालीमार बाग का फोर्टिस अस्पताल में बेड्स पूरी तरह भरे हैं।