PPF ब्याज दरों में हुई कटौती, निवेशकों को झटका, नई दरें एक से 30 अप्रैल तक रहेंगी लागू

 1 अप्रैल से नये वित्तीय वर्ष की जहां शुरूआत हो रही है, वहीं दूसरी ओर निवेशकों के लिए बुरी खबर है। ऐसे में छोटी बचत योजनाओं में पैसा लगाने लगाने वालों झटका लगेगा। के लिए बुरी ख़बर आई है . ऐसी सभी योजनाओं पर मिलने वाले ब्याज दरों में कटौती का ऐलान किया गया है । नई दरें कल से लागू होंगी और 30 जून 2021 तक प्रभावी रहेंगी।

फिक्स डिपॉजिट में भी कटौती
फिक्स डिपॉजिट की ब्याज़ दरें भी घटा दी गई हैं । नई दरों के मुताबिक़ एक साल के फिक्स डिपॉजिट पर 4.4 फ़ीसदी , दो साल पर 5.0 फ़ीसदी , तीन साल पर 5.1 फ़ीसदी और 5 साल पर 5.8 फ़ीसदी तय की गई है ।

वित्त मंत्रालय ने जारी किया नोटिफिकेशन
वित्तीय वर्ष 2021 – 22 की पहली तिमाही के लिए वित्त मंत्रालय की ओर से जारी नोटिफिकेशन में ब्याज दरों की सूची दी गई है। नोटिफिकेशन के मुताबिक बचत खातों पर मिलने वाले ब्याज़ दरों में 0.5 फ़ीसदी की कटौती की गई है । इसे 4.0 फ़ीसदी से हटाकर 3.5 फ़ीसदी करने का ऐलान हुआ है। सुकन्या समृद्धि खाता योजना के तहत मिलने वाले ब्याज दर को 7.6 फ़ीसदी से घटाकर 6.9 फ़ीसदी कर दिया गया है । इसी तरह National Savings Certificate पर मिलने वाले ब्याज़ दर को 6.8 फ़ीसदी से घटाकर 5.9 फ़ीसदी कर दिया गया है ।

पीपीएफ पर भी ब्याज़ दर घटा
सबसे लोकप्रिय बचत योजनाओं में से एक पीपीएफ स्कीम के ब्याज़ दर में कटौती की गई है । इस योजना में मिलने वाले ब्याज दर को घटाकर 6.4 फ़ीसदी कर दिया गया है जो अभी 7.1 फीसदी थी । वहीं वरिष्ठ नागरिकों के लिए बनाई गई वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर मिलने वाले ब्याज दर को 7.4 फ़ीसदी से घटाकर 6.5 फ़ीसदी कर दिया गया है । इसी तरह किसान विकास पत्र के ब्याज़ दर को भी 6.2 फ़ीसदी कर दिया गया है ।