गरीब बच्चों को मिलेगी अंग्रेजी माध्यम कि शिक्षा, खुलेंगे 5००० सरकारी स्कूल

प्रयोगात्मक फोटो

लखनऊ। प्रदेश की योगी सरकार अब हर गरीब बच्चों को अंग्रेजी माध्यम की भी शिक्षा मिल सके इसके लिए तैयारी कर चुकी है। ऐसे मेंं प्रदेश के अलग-अलग जिलों में 5००० हजार अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों को खोला जायेगा। हर जिले स्तर पर प्रत्येक ब्लाक और नगर क्ष्ोत्र में पांच-पांच विद्यालय खोले जायेंगे। बेसिक शिक्षा परिषद ने भी मंडलीय सहायक शिक्षा निदेशकों और सभी बीएसए को श्ौक्षिक सत्र 2०18-19 में अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों का चयन और साथ ही अंग्रेजी माध्यम के शिक्षकों का चयन करने के निर्देश जारी हो चुके हैं। चयन के बाद पूरी रिपोर्ट 15 मार्च को परिषद को सौंपनी होगी।
इनमें पढ़ाने के लिए इस तरह होगा शिक्षकों का चयन
अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में जो शिक्षक बच्चों को पढ़ायेंगे उनका चयन एक कमेटी करेगी। इसके लिए जिला स्तर पर जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया जायेगा। इसके लिए राजकीय इंटर कॉलेज के अंग्रेजी विषय के प्रवक्ता तथा बेसिक शिक्षा अधिकारी भी शामिल रहेंगे।
इस तरह होगी प्रक्रिया
-अंग्रेजी विषय के साथ ही 12 पास होने चाहिए शिक्षक
-5० अंकी लिखित परीक्षा का भी करना होगा सामना
-नगर क्ष्ोत्र के स्कूलोें में मिलेगी शहरी क्ष्ोत्र के शिक्षकों को नियुक्ति
-चयनित शिक्षकों को डॉयट पर पांच दिन लेना होगा प्रशिक्षिण

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen + 16 =