लखनऊ में आरएसएस कार्यकर्ता की पीट पीट कर हत्या, पेड़ में लटकाया शव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक आरएसएस के सक्रीय कार्यकर्ता बिहारी लाल रावत की डंडो से पीट पीट कर हत्या कर दी गयी। हत्यारों ने शव को पेड़ में करीब 15 फिट ऊपर लटका दिया। शव को जिसने भी देखा वह हैरान रह गया। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और एसएसपी दीपक कुमार को जानकारी दी। कि काकोरी के करधन गांव निवासी बिहारी लाल रावत (45) काकोरी में कोचिग चलाते हैं। वह आरएसएस के सक्रिय कार्यकर्ता थे वह भाजपा के बूथ अध्यक्ष भी थे । घटना की जानकारी मिलते मोहनलालगंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर मौके पर पहुंचे। उन्होंने घटना का जायजा लेते हुए पुलिस को पूरे प्रकरण में सख्ती से जांच के लिए निर्देश भी दिया।
पुलिस को जिम्मेदार बता रहे हैं लोग
शव मिलते ही स्थानीय लोग सड़क पर आकर पुलिस को ही घटना के लिए जिम्मेदार बताने लगे। इस दौरान लोगों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी भी की। लोगों ने मांग हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया गया जाये। वहीं शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया और हत्या की जांच में पुलिस जुट गयी है।

पत्नी ने दी तहरीर, रंजिश से किया इनकार
घटना के बाद मृतक की पत्नी विश्व कांति रावत की ओर से पुलिस को दी गई तहरीर में अजमतनगर निवासी विशाल यादव पर हत्या करने का शक जाहिर किया गया है। लेकिन विवाद क्या इस बारे में पत्नी पुलिस को कुछ नहीं बता पायी है।

साढ़े सात बजे निकले थे घर से
बिहारी लाल रावत कोचिंग जाने के लिए साढ़े सात बजे निकले थ्ो ये जानकारी पुलिस को उनकी पत्नी ने दी है। बिहारी साइकिल से ही चलते थे । पत्नी ने बताया कि इनके निकलते ही बेटा स्कूल जाने के लिए निकला था। घर से करीब सवा एक किलो मीटर जब बेटा आशीष पहुंचा तो देखा पिता की साइकिल और खून सड़क पर पड़ा देख किसी अनहोनी की आशंका से उन्हें आस-पास आवाज लगाई, लेकिन जवाब नहीं मिला। इसके बाद बेटे ने उनके मोबाइल फोन पर कॉल कि तो वह भी स्विच ऑफ था। जिस पर आशीष ने इसकी जानकारी घर पर दी। घरवालों की खोजबीन में बिहारी की साइकिल एक आम के बाग में मिली। वहीं पेड़ से गमछे के सहारे बिहारी लाल का शव लटकता हुआ दिखा। वहीं पुलिस का कहना है कि तीन से चार हत्यारों की संख्या हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 4 =