डग्गामारी व ओवरलोडिंग रोकने के लिए होगी टोल प्लाजा पर माॅनीटरिंग

न्‍यूज डेस्‍क। राजधानी समेत प्रदेश भर में डग्‍गामार और ओवरलोड वाहनों का संचालन हो रहा है, ये बात परिवहन, प्रोटोकाल राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) व ऊर्जा राज्य मंत्री स्वतंत्र ने खुद कही । मंगलवार वह राजस्व प्राप्ति के निर्धारित मासिक लक्ष्य से 50 प्रतिशत से कम आनलाइन राजस्व वसूली पर 9 सम्भागीय परिवहन अधिकारियों और 2 उप परिवहन आयुक्तों से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि डग्गामार सवारी वाहनों व ओवरलोड वाहनों के संचालन को रोकने के लिए प्रवर्तन टीम टोल प्लाजा पर भी माॅनीटरिंग करें तथा इन्हें संचालित करने वाले बिचैलियों की मिलीभगत पर भी रोक लगायी जाये।
परिवहन मुख्यालय में परिवहन अधिकारियों के साथ विभाग के प्रगति कार्यों की समीक्षा की गयी । जिसमें गाजियाबाद, झांसी, देवीपाटन, सहारनपुर, मुरादाबाद, फैजाबाद, बस्ती, चित्रकूट व मिर्जापुर के सम्भागीय अधिकारियों तथा मेरठ व बरेली जोन के उप परिवहन आयुक्त से आनलाइन कम राजस्व वसूली पर स्पष्टीकरण मांगा। उन्होंने कहा कि झांसी, उरई, मउरानीपुर, राठ, इटावा, बांदा, हमीरपुर, लखनऊ, कानपुर व गाजीपुर क्षेत्र में मौरंग की ट्रक ओवरलोड चल रहे है। ये ट्रक नेशनल हाई-वे पर भी चल रहे हैं। चेकिंग दस्ते सक्रिय कर इन्हें तत्काल बन्द कराया जाये। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी टोल प्लाजा पर चेकिंग दस्ते सक्रिय करें और वहां से गुजरने वाले डग्गामार वाहनों और ओवर लोड ट्रकों को कब्जे में लेकर कार्यवाई करें। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी उत्साहपूर्वक कार्य करें। सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्र (ब्लैक स्पाॅट) में जन जागरूकता के लिए नुक्कड़ नाटक, सभायें व गोष्ठी आयोजित करें। पब्लिसिटी वैन का अधिकाधिक प्रयोग करें व इसकी नियमित माॅनीटरिंग भी करें। उन्होंने कहा कि रोड सेफ्टी पर विशेष ध्यान दें। जागरूकता हेतु कालेजों, महाविद्यालयों व इण्टर कालेजों में गोष्ठी करायी जाये तथा इसमें जन प्रतिनिधियों का भी सहयोग लिया जाये।
परिवहन मंत्री ने कहा कि विभागीय लक्ष्य 5198 करोड़ रुपये को 17 प्रतिशत बढ़ाते हुए 6400 करोड़ रुपये कर दिया गया है। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए सार्थक प्रयास किये जायें। उन्होंने बताया कि विभाग ने अभी तक 93.41 प्रतिशत वृद्धि के साथ 4856 करोड़ रुपये की राजस्व प्राप्ति की है। उन्होंने कहा कि आर0टी0ओ0 और उप परिवहन आयुक्त जिलों में कार्यालयों के निरीक्षण हेतु जाये और वहां की कार्य संस्कृति बदलने के लिए सुबह 10 बजे से सांय 05 बजे तक कार्यालय में बैठे। उन्होंने अमेठी, लखनऊ, मेरठ, हाथरस, देवीपाटन, गोण्डा में सारथी हाल के निर्माण तथा मुजफ्फर नगर, प्रतापगढ़, शाहजहांपुर, लखीमपुर में कार्यालय भवन के निर्माण और लखनऊ में इन्स्पेक्शन एण्ड सर्टिफिकेशन सेंटर की स्थापना के कार्यों में तेजी लाकर समय से पूरा करने के निर्देश दिये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty + one =