ईवीएम पर नहीं थमी तकरार सीमए योगी के बाद मायावती का पलटवार

लखनऊ। यूपी में निकाय चुनाव का परिणाम और बीजेपी की प्रंचड जीत के बाद ईवीएम में गड़बड़ी होने का मुद्दा फिर गरमा गया है। बीजेपी की जीत के बाद विपक्षी पार्टियां इसे पचा नहीं पा रही हैं। बसपा सुप्रीमों मायावती ने ईवीएम में ख्ोल कर चुनाव जीतने का आरोप लगाते हुए 2०19 का चुनाव बैलेट पेपर से कराये जाने की मांग कर डाली है। तो वहीं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ये तक समझा डाला कि किस तरह ईवीएम में ख्ोल होता है। मायावती ने बसपा कार्यालय से जारी किए गए अपने बयान में कहा है कि सिर्फ अलीगढ़ और मेरठ की सीटों पर ही क्यों भाजपा मेयर के सभी 16 पदों पर बैलेट पेपर से चुनाव कराए तो उनकी असलियत सामने आ जाएगी।
ईवीएम पर आरोप को लेकर सीएम योगी ने कहा था ये
ईवीएम में गड़बड़ी होने के दावा किए जाने के बाद सीएम योगी ने अपने जवाब में कहा था कि मायावती को ईवीएम पर शक है तो वो अपने मेयर प्रत्याशियों से इस्तीफा दिलवाएं हम उन दो सीटों पर बैलेट से चुनाव करवा देंगे। मायावती ने कहा कि नगर पालिका व नगर पंचायत में जहां-जहां बैलेट पेपर से चुनाव हुए हैं भाजपा को हार का सामना करना पड़ा है और जहां ईवीएम से मतदान हुआ वहां भाजपा को जीत मिली है। इसी से पता चलता है कि भाजपा ने ईवीएम ने धांधली कर जीत हासिल की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen + 18 =