25 साल बाद सपा के समर्थन में बसपा, गोरखपुर व फूलपूर में उपचुनाव के लिए मायावती की अपील, कांग्रेस सामने भी बसपा की शर्त

file fhoto

लखनऊ। पूरे 25 साल बाद बसपा ने सपा का समर्थन करने की अपील की है। गोरखपुर और फूलपुर में उपचुनाव के लिए बसपा अध्यक्ष मायावती ने अपने कार्यकर्ताओं का सपा प्रत्याशियों का समर्थन करने की कही है। इससे पहले इन दोनो ही सीट पर 1993 में समर्थन के बाद चुनाव लड़ा गया था। साथ ही पिछली बार की तरह से इस बार भी उपचुनाव में मायावती ने अपने प्रत्योशियों को नहीं उतारा है। लेकिन समाजवादी पार्टी से मायावती ने राज्यसभा चुनाव के लिए सपा से सशर्त समर्थन भी मांगा है।

भाजपा को हराने के लिए लिया फैसला
फूलपुर और गोरखपुर में होने जा रहे उपचुनाव में बसपा बीेजेपी को जीतते हुए नहीं देखना चाहती है। इसलिए पूरी कोशिश है कि वहां पर समाजवादी पार्टी की जीत हो। हालांकि कोशिश चाहे जो भी हो लेकिन फैसला तो वोटिंग के बाद ही आयेगा। मीडिया के दिए गये बयान में मायावती ने कहा कि बसपा ने इस बार के उपचुनाव में भी पूर्व की तरह अपने उम्मीदवार नहीं उतारे हैं लेकिन भाजपा को हराने के लिए मजबूत उम्मीदवार का समर्थन देने का फैसला किया है।

सिर्फ उपचुनाव ही रहेगा गठबंधन
मायावती ने अपने बयान के माध्यम से गठबंधन को लेकर भी स्थिति को साफ कर दिया है। ऐसे में गोरखपुर और फूलपुर में उपचुनाव के दौरान ही दोनो पार्टियों का समर्थन रहेगा लेकिन आगे होने वाले लोक सभा चुनाव में किसी प्रकार का गठबंधन नहीं होगा।

फिर से राज्यसभा जाने की तैयारी मेें मायावती
ऐसा माना जा रहा है मायावती राज्यसभा में फिर से जाने की तैयारी में हैं। उन्होंने कहा कि राज्यसभा चुनाव में सपा अपने अतिरिक्त मतों को बसपा प्रत्याशी को देगी। इसके बदले में विधानसभा परिषद चुनाव में बसपा अपने वोट सपा उम्मीदवार को देगी।

राज्यसभा की सीटों पर जल्द होंगे चुनाव
यूपी में 1० राज्य सभा सीटों पर चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में जानकार ये मानते हैं कि मायावती राज्यसभा में जाने की तैयारी कर रही हैं। हालांकि इस बारे में बसपा की ओर से काोई स्पष्ट बयान नहीं है। लेकिन सपा से मतों की उम्मीद करना इस बात का इशारा करता है कि राज्यसभा के लिए भी मायावती ने तैयारी शुरू की है। दरअसल राज्य सभा की दस सीटों पर चुनाव के लिए 5 मार्च से 12 मार्च तक नामांकन होगा।

कांग्रेस के सामने भी रखी शर्त
वोटों की शर्त मायावती ने कांग्रेस के सामने भी रखी है। ऐसे में मायावती ने कहा कि कांग्रेस यूपी में अपने विधायकों के वोट बसपा प्रत्याशी को अगर दिला देगी तो इसके बदले में बसपा मध्य प्रदेश में राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार का समर्थन करेगी।

11 मार्च को फूलपुर और गोरखपुर में होगा मतदान
गोरखपुर और फूलपुर सीट पर 11 मार्च को वोटिंग होगी जबकि परिणाम 14 मार्च को आयेंगे। दोनो ही सीटे योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्या के इस्तीफे के बाद खाली हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × four =