मनोरम हुआ मनकामेश्वर उपवन घाट, पुलवामा शहीदों को दी श्रद्धांजलि

लखनऊ। पौष शुल्क पूर्णिमा एवं शाकम्भरी देवी जयंती के अवसर पर मंगलवार को मनकामेश्वर उपवन घाट पर अदभुत छटा बिखर रही थी। वर्ष के प्रथम गोमती आरती के मौके पर घाट शरद ऋतु के पुष्पों से सुशोभित किया गया था। आदि माँ गोमती महाआरती को देखने के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। इस मौके पर11 वेदियों से आरती करायी गयी। इस मौके पर नमोस्तुते मां गोमती एवं मनकामेश्वर मठ मंदिर की श्रीमहंत दिव्यगिरी जी महाराज ने मुख्य मंच से मां गोमती की महा आरती की। पंडित डॉ श्यामलेश तिवारी के आचार्यत्व में सभी वेदियों पर एक ही वेश भूषा में सभी पंडितों ने मंत्रों उच्चार के साथ माँ गोमती की आरती और पूजा अर्चना की।
बच्चों ने प्रस्तुत किए संस्कृत कार्यक्रम
लखनऊ के विभिन्न विद्यालयों से आये हुए बच्चों ने आरती थाली, दीप एवं कलश प्रतियोगिता और राधा कृष्ण नृत्य नाटिका मे हिस्सा लिया। आर्यन श्रीवास्तव और रोम कश्यप ने भगवान श्री कृष्ण व राधा की विहंगम लीला प्रस्तुत की, देहरादून से आई आठ साल की बच्ची आरुषि गुप्ता ने मंत्र मुग्द करने वाला शिव तांडव प्रस्तुत किया। बाद में बच्चों द्बारा कला प्रदर्शन को लेकर मनकामेश्वर मठ मंदिर की श्री महंत दिव्यगिरी जी द्बारा पुरुस्कार देकर सम्मानित किया गया।

लड़कियों ने सजाई रंगोली
मनकामेश्वर उपवन घाट पर वेदियों के सामने व पूरे परिसर में सारिका वर्मा के निर्देशन में खुशी, आदिका सक्सेना, अंजलि तिवारी, नीतू, गीता, निधि पांडेय, अंजू, प्रियंका रावत, मानसी, उपमा पांडेय, रीतू समेत अन्य लड़कियों ने फूलों एवं दीपों से रंगोली सजाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 5 =