लखनऊ में अब नहीं बढ़ेंगी जमीन की कीमतें, कई और जिलों में कीमतों को फ्रीज करने की तैयारी

लखनऊ में जमीन की कीमतों को फ्रीज करने की तैयारी की जा  रही है, जल्द ही इस पर निर्णय लिया जायेगा, इसके साथ ही अन्य जिलों में भी कुछ ऐसी तैयारी होने जा रही है। अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक आवास विकास परिषद लखनऊ सहित प्रदेश के कई जिलों में जमीन की कीमतें एक वर्ष के लिए फ्रीज करने की तैयारी की है। यानी इन शहरों में परिषद अब एक साल तक जमीनें की कीमतें नहीं बढ़ायेगा। जबकि कुछ शहरों में 15% तक जमीन की कीमतें बढ़ाने का प्रस्ताव है।

बैठक में होगा निर्णय

जमीन की कीमतों को लेकर आवास विकास परिषद की बैठक होनी है, गुरूवार को आयोजित होने वाली इस बैठक में कई अहम  निर्णय लिए जायेंगे। आवास विकास परिषद ने प्रदेश के विभिन्न शहरों की अपनी विभिन्न योजनाओं में 15% तक जमीन की कीमतें बढ़ाने की तैयारी की थी। लेकिन अब इसमें कुछ बदलाव किया जा रहा है। कोविड को देखते हुए परिषद अब ज्यादा योजनाओ में जमीन की कीमतें नहीं बढ़ाएगा। कुछ शहरों की 1-2 योजनाओं में ही जमीन की कीमतें बढ़ेंगी। लखनऊ की योजनाओं में अभी जमीन की कीमतें बढ़ाने पर निर्णय नहीं हुआ है। आवास विकास परिषद अधिकारियों की माने तो जमीन की कीमतें फ्रीज की जा रही है। लखनऊ की किसी योजना में इस बार जमीन के दाम नहीं बढ़ेंगे।