किसानों की योजनाओं में लापरवाही हुई तो कृषि अधिकारी होंगें दंडित, अधिकारियों को कृषि मंत्री ने दी सख्त चेतावनी

लखनऊ। प्रदेश के किसानों की आय दोगुनी करने के लिए सरकार हर सम्भव प्रयास कर रही है। ऐसे में कृषि विभाग के अधिकारियों को किसानों से सम्बन्धित योजनाओं को सफल बनाने के लिए जी जान से जुटना होगा, अन्यथा उन्हें दण्डित करने में कोर कसर नहीं छोड़ी जायेगी। ये बात सोमवार को उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कही। श्री शाही सोमवार को कृषि निदेशालय स्थित सभागार में राज्य स्तरीय खरीफ उत्पादकता गोष्ठी-2018 को सम्बोधित कर रहे थे। कृषि मंत्री ने कहा कि मेरी मंशा थी कि कृषकों के कल्याण से सम्बन्धित विभागों यथा पशुपालन, मत्स्य पालन, सिंचाई, उद्यान, गन्ना के अधिकारियों को बुलाकर किसानों से सम्बन्धित योजनाओं से उन्हें अवगत कराया जाय तभी किसानों का कल्याण हो सकेगा।

छूट की राशि तीन सप्ताह में किसानों के खाते पहुँचनी चाहिए

कार्यक्रम में श्री शाही ने बताया कि बुन्देलखण्ड के किसानों को सरकार द्वारा 80 प्रतिशत छूट पर बीज उपलब्ध कराया जा रहा है। छूट की धनराशि किसानों के खाते में हस्तान्तरित की जा रही है। इस वर्ष सरकार का लक्ष्य है कि किसानों को दो गुना बीज वितरित किया जायेगा। जो अधिकारी छूट की धनराशि किसान के खाते में हस्तान्तरित करने में लापरवाही करेंगे उन्हें दण्डित करने में कोताही नहीं की जायेगी। छूट की धनराशि प्रत्येक दशा में किसान के बैंक खाते में 3 सप्ताह में पहुंच जाय।

10 लाख नीम के पेड़ लगाने के लिए अधिकारी रहें तैयार

कृषि मंत्री ने कहा कि इस वर्ष 10 लाख नीम के पेड़ लगाने का सरकार का लक्ष्य है। इस लक्ष्य की पूर्ति हेतु अधिकारियों को सचेत किया गया। कृषि मंत्री ने कहा कि किसानों के कल्याण हेतु पशुपालन, मत्स्य, उद्यान, गन्ना इत्यादि विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ राजधानी से बाहर मंथन किया जायेगा। कृषि के क्षेत्र में हमें उल्लेखनीय कार्य करना है। कृषि मंत्री ने गोष्ठी में बताया कि प्रदेश में उर्वरकों की कमी नहीं है। उन्होंने उर्वरकों के संतुलित प्रयोग पर बल देते हुए कहा कि मिट्टी के सेहत की जांच करके मृदा स्वास्थ्य कार्ड के वितरण पर जोर दिया जा रहा है।

दुग्ध उत्पादन में हरियाणा की करनी है बराबरी

कृषि मंत्री ने कहा कि सर्वाधिक दूध का उत्पादन प्रदेश के बुलन्दशहर जनपद में किया जा रहा है। दुग्ध उत्पादन के क्षेत्र में हमें हरियाणा की बराबरी करनी है। श्री शाही ने कहा कि हमारी सरकार ने चीनी का रिकार्ड उत्पादन किया है। सरसों, दलहन, तिलहन की उपज में रिकार्ड बढ़ोत्तरी हुई है। गन्ना किसानों का एक-एक पैसा चुकता कर दिया गया है।

किसानों की फसल का वाजिब दाम दे रही है सरकार

इस अवसर पर राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार स्वाती सिंह ने कहा कि किसानों को फसल का वाजिब दाम दिया जा रहा है। कृषि उत्पादों के विपणन की उचित व्यवस्था की जा रही है। कार्यक्रम में कृषि उत्पादन आयुक्त ने बताया कि किसानों के हित में कल्याणकारी योजनायें चलायी जा रही हैं। कृभको तथा इफको के माध्यम से उर्वरकों की आपूर्ति की जा रही है। प्रमुख सचिव कृषि अमित मोहन प्रसाद ने कम लागत, अधिक उपज पर बल दिया। इस अवसर पर ‘कृषि रक्षा रसायनों के प्रयोग में सावधानियाँ’ पुस्तक का विमोचन किया गया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − ten =