मदरसे में धर्म और शिक्षा के नाम पर कारी करता था योन शोषण, पुलिस ने दबोचा

लखनऊ। शिक्षण संस्थान हो या फिर धर्म के नाम गुरु बने बाबाओं का अड्डा अब तो यकीन करना मुश्किल होता है कि इनके यहां सब सही ही हो रहा होगा। यौन शोषण के आरोप में जहां कई बाबा जेल की हवा खा रहे हैं तो वहीं पर अब मदरसे भी सुरक्षित नहीं है। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ताजा मामला सामने आया है। यहां एक मदरसे में उसका संचालक (कारी) नाबालिग बच्चियों के साथ यौन शोषण करता था। पुलिस को जब इसकी भनक लगी तो छापा मारा गया। पुलिस ने मदरसे से 51 लड़कियों को बरामद किया है। लड़कियों ने मदरसें में चल रहे घिनौने सच को भी पुलिस के सामने उजागर किया। कारी की हकीकत सुनकर पुलिस के आला अफसर भी हैरान रह गये।
पूरा मामला सआदतगंज थाना क्ष्ोत्र का है यहां यासीनगंज स्थित जामिया खदीजतुल कुबरा लिलबनात में छात्राओं का शिक्षा के नाम पर यौन शोषण किया जाता था। इस बारे में जानकारी देते हुए एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि मदरसे के भीतर हॉस्टल में रहने वाली छात्राओं के यौन शोषण को लेकर शिकायत मिली थी। जिसके बाद पुलिस तत्काल एक्शन में आई और छापा मारा। इस मौके पर कई छात्राओं ने चिठ्ठियां लिखकर पुलिस को अपनी दास्ता बतायी है। छात्राओं का आरोप है कि मदरसे का संचालक (कारी) तैय्यब जिया आये दिन उनके साथ छेड़छाड़ करता था। मासूम छात्राओं को कमरे में बुलाकर अपने पैर दबवाता था साथ उनके साथ घिनौने कृत्य भी करता था।
कुल 151 छात्राओं में पुलिस को मिली 51 छात्राएं
एसएसपी लखनऊ दीपक कुमार और एएसपी पश्चिम विकास चंद त्रिपाठी, एडीएम सिटी संतोष कुमार वैश्य, अल्पसंख्यक विभाग एवं चाइल्ड वेलफ़ेयर कमेटी की एक टीम के साथ हुई छापेमारी में कुल 51 छात्राएं मौके पर मिली। जबकि बताया जा रहा है यहां पर 151 छात्राएं शिक्षा ग्रहण करती थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × two =