लखनऊ में माफिया मुख्तार की पत्नी अफशां की करोड़ों की संपत्ति कुर्क, आजमगढ़ पुलिस की टीम ने की कार्रवाई

खनऊ। माफिया मुख्तार अंसारी पर कानूनी शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। रविवार को लखनऊ में मुख्तार की पत्नी अफशां अंसारी की करोड़ों रुपयों की संपत्ति पुलिस ने कुर्क की है। ये कार्रवाई आजमगढ़ पुलिस की ओर से की गयी है, पुलिस टीम शनिवार की शाम लखनऊ पहुंची थी, जिसके बाद रविवार को दिन भर कार्रवाई जारी रही, इस कार्रवाई में लखनऊ पुलिस टीम सहयोग के लिए लगाया गया था। आजमगढ़ टीम ने लखनऊ पुलिस के अधिकारियों को सूचना के बाद जिलाधिकारी कार्यालय भी संपर्क​ किया। वहां से अनुमति मिलने के बाद पुलिस टीम दोपहर बाद करीब 3:45 बजे विधानसभा मार्ग पहुंची जहां उसकी जमीन को कुर्क किया गया। कुर्क की गई जमीन 194 वर्ग मीटर है, ये जमीन नजूल की है जिसे अवैध रूप से खरीदा गया था। इस पर पहले पेट्रोल पंप भी चल रहा था। आजमगढ़ टीम प्रभारी प्रशांत कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक आजमगढ़ के तरवां थाने में मुख्तार के खिलाफ वर्ष 2020 में गैंगेस्टर की कार्रवाई हुई थी। जिसके बाद यह संपत्ति कुर्क की गयी है।

डुगडुगी पिटवाकर कुर्की का हुआ ऐलान
जमीन कुर्क करने से पहले पुलिस टीम ने डुगडुगी पिटवाई उसके बाद तहसीलदार सदर ने कुर्की की कार्रवाई का एनाउंस किया। इसके बाद प्लाट पर तारों की बैरीकेडिंग कर नोटिस चश्पा की गई। कार्रवाई में शामिल टीम के मुताबिक गाजीपुर मुम्मदाबाद के यूसुफनगर में रहने वाला माफिया मुख्तार अंसारी जो इस समय बांदा जेल में बंद है।

तीन करोड़ की है संपत्ति
लखनऊ जिला प्रशासन के मुताबिक कुर्क की संपत्ति की कीमत करीब तीन करोड़ रूपए है।
अधिकारियों के मुताबिक मुख्तार अंसारी ने 22 अगस्त 2007 को पत्नी के नाम से यह जमीन अवैध तरीके से खरीदी थी। जमीन नजूल की थी। सुनील चक ने नजूल की इस जमीन का एक हिस्सा मुख्तार अंसारी को बेचा था। कुर्की की कार्रवाई के बाद जमीन पर प्रशासन की ओर से बोर्ड भी लगा दिया गया।

हुसैनगंज पुलिस करेगी निगरानी
कुर्क की गई जमीन का प्रशासक एडीएम और कस्टोडियन इंस्पेक्टर हुसैनगंज अजय कुमार सिंह को बनाया गया है। साथ ही निर्देश दिए गये हैं कि जमीन की निगरानी लगातार की जानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve + 1 =