सरकार ने समाप्त की हज सब्सिडी, 7०० करोड़ की होगी बचत, महिलाओं को मिलेगा लाभ

न्यूज डेस्क। अब हज यात्रा पर जाने वालो को सरकार सब्सिडी नहीं देगी। हज जाने के लिए पूरा खर्च खुद ही उठाना होगा। पूरी तरह से सब्सिडी समाप्त किए जाने के बाद सरकार ने दूसरा अहम निर्णय भी लिया है। क्योंकि अब सरकार के बजट में 7०० करोड़ रुपए की बचत होगी। सरकार इन पैसों से अल्पसंख्यक महिलाओं को लाभ देगी। केंद्रीय अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि हर इंसान की तमन्ना होती है कि वह अपनी मेहनत की कमायी से हज करे। उन्होंने कहा कि जो सब्सिडी बंद की गयी है। उससे सरकार को 7०० करोड़ रुपए की बचत होगी। जो कि अल्पसंख्यक महिलाओं की शिक्षा पर खर्च्र की जायेगी। जिससे समाज में उनको भी शिक्षा के क्ष्ोत्र में बराबरी का दर्जा मिल सके।
लेकिन हज यात्री चाहे तो अब भी कम किराये पर कर सकते हैं यात्रा
मुख्तार अब्बास नकवी ने ये भी कहा कि हज यात्री चाहें तो अब भी कम किराये में हज पर जा सकते हैं। इसी कारण यह शर्त हटा ली गई है कि कौन से राज्य के यात्री कहां से सऊदी जाएंगे। अब यह उनकी मर्जी पर है कि वे दिल्ली से जाना चाहते हैं या मुंबई या किसी और जगह से। अलग-अलग स्थानों से किराया भी अलग है। जम्मू-कश्मीर जैसे राज्यों की तुलना में दिल्ली और मुंबई से किराया लगभग आधा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + seven =