Good News: RBI ने 8वीं बैठक में भी नहीं किया ब्याज दरों में बदलाव, जीडीपी को लेकर जानिए गर्वनर शक्तिकांत दास ने क्या कहा


रिजर्व बैंक आफ इंडिया ने (Reserve bank of india) ने मौद्रिक नीति समिति (MPC) की लगातार आठवी बैठक में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। गवर्नर शक्तिकांत दास ने बताया कि इस तिमाही भी रेपो रेट 4 फीसदी पर स्थिर रहेंगे और रिवर्स रेपो रेट की दर 3.55 फीसदी पर बरकरार रहेगी। मार्जिनल स्टैंडिंग फैसिलिटी रेट (MSFR) और बैंक रेट 4.25 फीसदी रहेगा। 6 सदस्यों वाली मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (MPC) ने तीन दिनों की बैठक के बाद आज ब्याज दरें जारी की हैं।
बता दें कि कोरोना महामारी की वजह से रिजर्व बैंक का फोकस इस समय लगातार महंगाई और इकोनॉमिक ग्रोथ को कम करने पर है। प्रेस कॉन्फ्रेंस में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांता दास ने कहा कि पिछली बैठक की तुलना में इस बार भारत की स्थिति में कुछ सुधार हुआ है। वहीं, खपत और एग्री सेक्टर की ग्रोथ में अच्छी रिकवरी देखने को मिल रही है।
वहीं, औद्योगिक और सर्विस सेक्टर में अभी भी सुधार की जरूरत है। मॉनेटरी पॉलिसी कमिटी ने फिस्कल ईयर 2021 के लिए GDP की ग्रोथ रेट 9.5 फीसदी पर बरकरार रखा है। बता दें कि इस संबंध में 6 अक्टूबर को रिजर्व बैंक (Reserve bank of india) की मौद्रिक समीक्षा नीति (RBI Monetary Policy) की बैठक शुरू हुई थी, जिसके रिजल्ट आज यानी 8 अक्टूबर को जारी किए गए हैं।
केंद्रीय बैंक ने आखिरी बार मई, 2020 में रेपो दर (Repo Rate) में बदलाव किया था। मई महीने में आरबीआई ने रेपो रेट्स में 0.40 फीसदी की कटौती की थी, जिसके बाद रेपो रेट घटकर चार फीसदी हो गया था। बता दें कि साल 2020 में कोरोना महामारी की वजह से देश की अर्थव्यवस्था बुरी तरह प्रभावित थी, उससे कहीं स्थिति बेहतर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − 3 =