खेल प्रतियोगिता से टीम वर्क का होता है विकास, स्टेट लेवल स्पोर्ट्स फेस्ट का हुआ समापन

  • डॉ अब्दुल कलाम स्टेट लेवल स्पोर्ट्स फेस्ट 2017-18
    का समापन एवं पुरस्कार वितरण

लखनऊ। खेल प्रतियोगिताओं में भागीदारी से अनुशासन और टीम में वर्क करने की प्रतिभा का विकास होता है। छात्र-छात्राओं की खेल में प्रतिभागिता उन्हें शारीरिक और मानसिक स्वस्थता प्रदान कर सकती है। ये विचार प्रदेश के प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने व्यक्त किए। श्री टंडन बुधवार को डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विवि में डॉ अब्दुल कलाम स्टेट लेवल स्पोर्ट्स फेस्ट 2017-18 का समापन एवं पुरस्कार वितरण कार्यक्रम ष्षामिल हुए। इस मौके पर प्राविधिक षिक्षा सचिव भुवनेश कुमार ने कहा कि खेल में प्रतिभागिता से समन्वयन और लीडरशिप जैसे कौशल का विकास होता है। छात्र-छात्राओं को नियमित रूप से खेल प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग करते रहना चाहिए। वहीं एकेटीयू कुलपति प्रो. विनय कुमार पाठक ने कहा कि विवि के सम्बद्ध संस्थानों में आयोजित स्टेट लेवल प्रतियोगिता में विजयी हुए छात्र-छात्राओं को विवि की टीम बनाकर शामिल किया जाएगा। साथ ही साथ विजेता छात्र-छात्राओं को अध्ययन और शोध के लिए स्कालरशिप प्रदान करने की भी योजना बनाई जाएगी। इस अवसर पर मंत्री श्री टंडन ने खेल प्रतियोगिताओं में विजयी हुए छात्र-छात्राओं को प्रोत्साहित करने के लिए पुरुस्कार वितरित किये। प्रतियोगिता में 94 सम्बद्ध संस्थानों के लगभग 4517 छात्र-छात्राओं को ने प्रतिभाग किया। एथेलेटिक्स, शतरंज, बास्केटबाल, फुटबॉल, बैडमिंटन और टेबल टेनिस आदि खेल आयोजित किये गए थे, जिनमें प्रथम और द्वितीय स्थान हासिल करने वाले खिलाड़ियों एवं टीमों को पुरुस्कृत किया गया है। इस अवसर पर विवि के कुलसचिव ओपी राय, बीबीडी के चेयरमैन अल्का गुप्ता,डीन स्टूडेंट वेलफेयर ओपी राय, एसो. डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ धन्नजय सिंह, सह डीन स्टूडेंट वेलफेयर डॉ एके तिवारी, यूपीएसईई के उप समन्वयक डॉ आरके सिंह एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 11 =