रक्षामंत्री ने बताया कि डिफेंस कारिडोर बुंदेलखंड की आर्थिक विकास को करेगा मजबूत

लखनऊ। इन्वेस्टर समिट में शामिल हुई रक्षमंत्री निर्मला सीतारमण ने डिफेंस और एयरोस्पेस उत्तर प्रदेश में इंवेस्टमेन्ट के अवसर के समग्र सत्र को संबोधित किया। रक्षमंत्री ने कहा कि इस डिफेंस इंडस्ट्यिल कोरिडोर के माध्यम से अलीगढ आगरा, झांसी, चित्रकूट सहित कानपुर एवं लखनऊ क्षेत्र को जोड़ने का प्रस्ताव है। यूपी में इस कोरिडोर के माध्यम से पहले से स्थापित आयुध उपकरण फैक्ट्ी एवं पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग संस्थान जुड़ जायेेगें। श्रीमती सीतारमण ने कहा कि यूपी सरकार का प्रस्तावित छ: लेन के राजमार्ग का लाभ बंुदेलखंड क्षेत्र को होगा । यह डिफेंस कोरिडोर चित्रकूट से झॉसी तक विस्तारित होगा जो भारत में इंवेस्टमेन्ट यूनिट के लिए आवश्यक सहयोग प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्रालय का यह कदम रक्षा उत्पाद में इंडस्ट्ी इंवेस्टमेन्ट को बढ़ावा देने के लिए उठाया गया है जो डिफेंस कोरिडोर की गति को आगे बढ़ाने में बल देगा। उन्होंने आगे कहा कि इसके अतिरिक्त रक्षा मंत्रालय प्राईवेट इंवेस्टमेन्ट को बढ़ावा देने के साथ-साथ प्रस्तावित कोरिडोर में हथियारों एवं विस्फोटक की ब्लास्ट टेस्टिंग से जुड़े संसाधनों को भी बढ़ायेगा।
कारिडोर एक इंजन के रूप में करेगा कार्य
रक्षामंत्री ने कहा कि कम मूल्य की भूमि एवं कम लागत के साथ संसाधनों की आपूर्ति करना उत्तर प्रदेश डिफेंस इंडस्ट्यिल कोरिडोर के लिए एक आर्काषण होगा। उत्तर प्रदेष के क्षेत्रों में विश्ोषकर बुंदेलखंड के आर्थिक विकास में यह कोरिडोर एक इंजन के रूप में कार्य करेगा। रक्षामंत्री ने कहा कि वित्तमंत्री ने अपने बजट भाषण-2०18 में देश में दो डिफेंस इंडस्ट्यिल कोरिडोर के निर्माण की घोषणा की थी और प्रधानमंत्री ने इंवेस्टर्स समिट-2०18 के उद्घाटन भाषण में एक डिफेंस इंडस्ट्यिल कोरिडोर का निर्माण उत्तर प्रदेष में किये जाने की घोषणा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 2 =