चारा घोटाले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव को जेल, तीन जनवरी को सुनाई जायेगी सजा

नई दिल्ली। चारा घोटाले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव पर आरोप साबित होते ही शनिवार को उन्हें जेल भ्ोज दिया गया। जबकि सजा तीन जनवरी को सुनाई जायेगी। सीबीआई की विश्ोष अदालन ने ये सजा सुनाई है। 21 साल बाद आये इस फैसले के बाद 15 अन्य भी दोषी करार दिए गये हैं। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा समेत 6 लोग बरी हो गये हैं। फैसला आते ही लालू यादव सहित सभी आरोपियों को जेल भ्ोज दिया गया है।
कोर्ट ने इन्हें माना है दोषी
बिहार के पूर्व सांसद रहे आरके राणा, राजनेता जगदीश शर्मा और आईएएस बेक जूलियस, फूलचन्द्र सिंह और महेश प्र्रसाद, और राज्य सेवा के अफसर कृष्ण कुमार, सुधीर भट्टाचार्य आठ ट्रांसपोर्टरों को दोषी माना है।
ये था पूरा मामला
1991 से 1994 के बीच फर्जी कंपनियों माध्यम से देवघर ट्रेजरी से 89.27 लाख रुपए निकाले गये। मामला उजागर होने के बाद जांच सीबीआई को मिली। सीबीआई ने इसमें 38 लोगों को आरोपी बनाया था। इसमें अभी तक 11 लोगों को मौत भी हो चुकी है। जबकि तीन सरकारी गवाह बने और दो लोगों ने खुद आरोपों को कुबूल लिया था।
अभी तक जमान पर थ्ो लालू यादव
इससे पहले लालू यादव को पांच साल की सजा हो चुकी थी। वह अभी तब जमानत पर बाहर चल रहे थ्ो। वर्ष 2०13 में राची की विश्ोष अदालत चाईबासा ट्रेजरी 37.5 करोड़ की अवैध निकासी के मामले में लालू यादव आरोपी थे जिसमें उन्हें पांच साल की सजा सुनायी थी। और वह जमानत पर बाहर थ्ो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 7 =