दो टुकड़े में बटी मालगाड़ी, एक किलोमीटर चला गया इंजन वाला हिस्सा, कानपुर-फर्रूखाबाद रूट पर हुई घटना

file foto

लखनऊ। कभी ट्रेन का टूटे रेलवे ट्रैक से गुजर जाना, तो कभी ट्रेन का दो हिस्सों में बंट जाना आये दिन ऐसी घटनाएं सामने देखने को मिल रही है। बावजूद उसके रेलवे प्रशासन ऐसी घटनाओं को रोकने में नाकाम साबित हो रहा है। ताजा मामला कानपुर से फर्रूखाबाद रेलवे रूट पर जा रही मालगाड़ी का है। यहां मालगाड़ी शिवराजपुर के बर्रराजपुर रेलवे स्टेशन से पूर्व दो हिस्सों में बंट गई। गाड़ी से अलग हुए नौ डिब्बों के चलते फर्रूखाबाद-कासगंज रेलवे रूट पर गाडिय़ों का संचालन बंद करना पड़ा। कपलिंग ठीक करने के बाद दोबारा से मालगाड़ी के साथ अलग डिब्बों को जोडक़र गाड़ी को रवाना किया गया। कानपुर-फर्रूखाबाद से होते हुए बुधवार को मुथरा जा रही मालगाड़ी शिवराजपुर के पास स्थित बर्रराजपुर स्टेशन पहुंचने वाली थी कि अचानक गाड़ी दो हिस्सों में बंट गई।
इंजन के बाद के नौ डिब्बे हुए अलग
गाड़ी के पीछे के नौ डिब्बे कपलिंग से अलग होकर छूट गये। मालगाड़ी से दो हिस्सों में बंटते ही चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोक दी। लगभग 9:30 बजे सुबह मालगाड़ी के दो हिस्सों में बंटने की जानकारी गार्ड व चालक ने आगे व पीछे के स्टेशनों पर देते हुए गाडिय़ों का संचालन रूट पर बंद कराया और अलग डिब्बों को गाड़ी से जोडऩे में जुट गये। चालक ने इंजन के साथ लगे डिब्बों को बैक कर पीछे छूट गये डिब्बों के पास पहुचाया और फिर कपलिंग से जोड़ा। मामले की जानकारी पर मीडिया कवरेज करने पहुंची तो गार्ड व चालक ने अपना नाम न बताते हुए नेमप्लेट हटा ली और गाड़ी के अलग होने की जानकारी देने से इंकार कर दिया। हालांकि बर्रराजपुर स्टेशन मास्टर ने बताया कि मालगाड़ी के चालक द्वारा लिखित जानकारी दी गई है कि गाड़ी का प्रेशर ड्राप होने कपलिंग ढीली होने से गाड़ी के नौ डिब्बे अलग हो गये थे, जिसके चलते ट्रेन को रोकना पड़ा। कपलिंग की मरम्मत करने के बाद अलग डिब्बों को जोडक़र मालगाड़ी को स्टेशन से 10:10 बजे गुजारा गया। इस दौरान करीब 1 घंटे सभी ट्रेने प्रभावित रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

13 − 7 =