1 लाख 71 हजार दीपों से जगमग हुई अयोध्या

-गिनीज बुक में दर्ज हो सकता है रिकार्ड
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पहल पर इस बार आयोध्या में एतिहासिक दीपावली मनायी जा रही है। बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डिप्टी सीएम और कई मंत्री के साथ अयोध्या पहुंचे और एक लाख 71 हजार दीपों से आयोध्या को रोशन किया। इतनी संख्या में दीपक जलाने का एक बड़ा रिकार्ड माना जा रहा है जानकारों का मानना है कि अयोध्या का नाम गिनीज बुक में दर्ज हो सकता है।
सरयू के तट पर रामकथा पार्क में योगी और राम नाईक ने राम, सीता और लक्ष्मण का माला पहनाकर स्वागत किया, आरती उतारी और राजतिलक भी किया। बाद में अपने भाषण में मुख्यमंत्री ने कहा कि हजारों वर्ष पहले त्रेता युग की स्मृतियों से जोड़ने की कोशिश कर रही है सरकार, जब 14 सालों के बाद राम जी का अयोध्या आगमन हुआ होगा। अयोध्या ने दुनिया को दिवाली दी, अयोध्या को उसकी पहचान मिलनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा कि अयोध्या ने दुनिया मानवता का रास्ता मजबूत करने के लिए सबकुछ दिया। उन्होंने कहा कि अयोध्या को लेकर लगातार नकारात्मक चर्चा का विषय बना। उन्होंने कहा कि आयोध्या का विषय नकारात्मकता से सकारात्मकता से ले जाने का हमारा अभियान है। उन्होंने कहा कि चार चरणों में ये कार्यक्रम पूरा होना है जिसका पहल चरण सभी के सामने है।

टूरिज्म का हब बनेगा उत्तर प्रदेश
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के अंदर अयोध्या-काशी-मथुरा-नैमिषारण्य, विध्यवासिनी का धाम हो या फिर पुरातात्विक महत्व के स्थल हों, सबका विकास होगा। उन्होंने कहा कि अपना प्रदेश दुनिया में टूरिज्म का हब बने, इसकी शुरुआत होने जा रही है। उन्होंने कहा कि अयोध्या मानवता की धरती है इसने राम राज्य के माध्यम से पूरी दुनिया को मानवता का पाठ पढ़ाया और अयोध्या अपने स्वरूप में फिर लौटेगी।

सभी घाटों पर बहेगी सरयू की धारा
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिन घाटों पर सरयू की धारा नहीं बह रही है। उन पर सरयु की धारा को लाने के लिए योजना तैयार है। उन्होंने कहा कि अपने जीवन में और आने वाली पीढ़ी को खुशहाली देनी है तो अपनी विरासत और महापुरुषों का सम्मान करना पड़ेगा। विकास के रास्ते पर चलकर हम समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति को जोड़ेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − nine =