सागर माला परियोजना से मिलेंगी एक करोड़ नौकरियां-मोदी

लखनऊ। रविवार को गुजरात दौरे पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि भारत को अधिक से अधिक बंदरगाहों की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हमारा मानना है कि अकेले सागर माला परियोजना लगभग 1 करोड़ नौकरियां प्रदान करेगी। दरअसल गुजरात विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए मोदी वडोदरा में जनसभा को संबोधित कर थ्ो, वह 2०14 के लोकसभा चुनाव में यहीं से खड़े थ्ो। वडोदरा में भी वह पूरे चुनावी मूड में दिख रहे हैं और वह गुजराती में ही जनता को संबोधित कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने वडोदरा सिटी कमांड कंट्रोल सेंटर और वाघोदिया रिजनल वाटर सप्लाई स्कीम का लोकार्पण करने के बाद कहा कि जनता की एक-एक पाई विकास कार्यों में खर्च होगी, और विकास का विरोध करने वालों के एक पाई नहीं दी जाएगी। हमारे काम करने की दृष्टि स्पष्ट है. देश का संपूर्ण संसाधन देश की जनता के कल्याण के लिए खर्च किया जाएगा. विकास हमारी प्राथिमिकता है। वडोदरा में मोदी इसके बाद एक फ्लाईओवर, सिधरोट में माही नदी पर एक वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, एक इंटीग्रेटेड मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब ‘जन महल’, दाभोई रिजनल वाटर सप्लाई स्कीम, सनखेडा रिजनल वाटर सप्लाई स्कीम, मुंद्रा से दिल्ली के लिए पेट्रोलियम प्रोडक्ट पाइपलाइन की क्षमता विस्तार से संबंधित स्कीम और ग्रीनफील्ड मार्केटिग टर्मिनल प्रोजेक्ट की आधारशिला रखेंगे। इससे पहले उन्होंने भरूच के दहेज और भावनगर के घोघा के बीच 64० करोड़ रुपये की लागत से तैयार रो-रो फ़ेरी सर्विस का उद्घाटन किया। इससे पहले भीं मोदी ने गुजरात में नर्मदा नदी के नए गेटों का उद्घाटन किया, अहमदाबाद से मुंबई के बीच देश की पहली बुलेट ट्रेन परियोजना का उद्घाटन किया. इस महीने गुजरात दौरे की पहली रैली में ही मोदी ने द्बारका में 6,००० करोड़ रुपये की परियोजनाओं का उद्घाटन किया था. इतना ही नहीं प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्होंने पहली बार अपने गृह नगर वडनगर का भी दौरा किया, जहां उन्होंने 5०० करोड़ रुपये की लागत से बने सिविल अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 + 20 =