लखनऊ में वन विभाग की नाकामी से हुई तेंदुए की मौत, कानपुर रोड बंथरा थाने के निकट अज्ञात वाहन ने कुचला

बंथरा स्थित अनुसंधान केन्द्र केन्द्र के अंदर जंगल में मौजूदगी थी, वन विभाग ने पग चिन्हों के आधार पर पुष्टि भी की थी तब दो तेंदुए मौजूद होने की बात सामने आयी थी, लेकिन आज यानी शुक्रवार को एक तेंदुए की सड़क हादसे में मौत हो गयी, अगर वन विभाग की टीम सक्रियता दिखाती तो इस बेजुबान की जान बच सकती थी। बता दें कि पहली बार बीते वर्ष दिसंबर के अंतिम सप्ताह में वनस्पति अनुसंधान केन्द्र परिसर में कार्यरत कर्मचारियों ने तेंदुओं को अपनी आंखों से देखा था, तब इसकी शिकायत भी वन विभाग को भेजी गयी थी, उसके बाद भी तेंदुओ को पकड़ा नहीं जा सका। पूरी घटना बंथरा थाना क्षेत्र के कुछ दूरी पर तेंदुए का शव मिला है, इस संबंध में बंथरा थाने की पुलिस ने बताया कि इसकी सूचना पास के ही एक  नागरिक ने दी थी। जबकि वन विभाग के अधिकारियों ने भी घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि तेंदुए की सड़क हादसे में मौत हुई है, लेकिन जिस वाहन से ये घटना हुई इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पायी है।

http://लखनऊ समेत यूपी के कई शहरों में लागू हुआ नाइट कर्फ्यू, पुलिस ने बंद करायी दुकानें , देखिए तस्वीरे

प्राणि उद्यान में हुआ पोस्टमार्टम

वन विभाग के अधिकारियों ने घटना शुक्रवार को भोर में हुई है, जानकारी मिलने के बाद तेंदुए का शव स्थानीय पुलिस की मदद अपने कब्जे में लेंकर लखनऊ प्राणि उद्यान में पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है, अधिकारियों ने बताया कि पोस्टमार्टम की कार्रवाई पूरी हो गयी है, उसकी मौत सड़क हादसे में चोट लगने से ही हुई है।

तेंदुए की मौत शुक्रवार की भोर में एक सड़क हादसे के दौरान हुई है, शव का पोस्टमार्टम लखनऊ प्राणि उद्यान में कराया गया है, गहरी चोट लगने से मौत की पुष्टि हुई है। अनुसंधान परिसर में दो तेंदुए होने की जानकारी मिली थी लेकिन दूसरा किसी ने भी नहीं देखा है।

रवि सिंह डीएफओ लखनऊ