धनवंतरी सेवा केन्द्र लोहिया अस्पताल में मरीजों की मदद

लखनऊ। राजधानी के लोहिया अस्पताल में अब धनवंतरी केन्द्र की ओर से मरीजों को सहायता प्रदान की जायेगी। मंगलवार को धनवंतरी का छठा केन्द्र लोहिया अस्पताल में खुल गया। केन्द्र का उद्घघाटन कैबिनटे एवं स्वास्थ्य मंत्री सिदार्थ नाथ ने किया। इस मौके पर उन्होंने धनवंतरी संस्था की ओर से दिए गये व्हील चेयर, स्ट्रेचर को भी मंत्री ने देखा। मंत्री ने संस्था की इस पहल को सराहनीय बताया। मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा है कि जब कोई पीडि़त रोगी चिकित्सालय में आता है तो उस समय उसको स्ट्रेचर या व्हील चेयर प्रदान करके मानवता की सेवा करना परम धर्म है। उन्होंने कहा कि राम मनोहर लोहिया संयुक्त चिकित्सालय में धन्वन्तरी रोगी सेवा केन्द्र के लिए समाज के कुछ गणमान्य लोगों ने 6 स्ट्रेचर एवं 6 व्हील चेयर का सहयोग देकर सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा रोगियों के इलाज के लिए आवश्यक संसाधनों की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार के साथ-साथ सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी अपने दायित्वों एवं कर्तव्यों का निर्वहन पूरी निष्ठा के साथ करना चाहिए। इस मौके पर महापौर डा. सयुंक्ता भटिया के साथ प्रमिला अरोड़ा, बलरामपुर चिकित्सालय के निदेशक डा. राजीव लोचन, श्यामा प्रसाद मुखर्जी चिकित्सालय के निदेशक डा. एचएस दान एवं केजीएमयू के डा. सूर्य कान्त त्रिपाठी भी मौजूद थे।
क्या है धनवंतरी सेवा केन्द्र
लोहिया अस्पताल प्रशासन के मुताबिक धनवंतरी केंद्र की स्थापना का मसकद पेशेंट और उनके अटेंडेंट की हेल्प करना है। इस बारे में डा. विभा सिंह ने अधिक जानकारी देते हुए बताया कि इसकी शुरूआत केजीएमयू से 2016 में हुई थी। संस्था की ओर से अस्पतालों में व्हीलचेयर और स्ट्रेचर मुहैया कराया जाता है। साथ धनवंतरी सहायता केन्द्र की स्थापना की जाती है। उन्होंने बताया कि इसमें समाज के लिए जो भी मदद करना चाहते हैं उनकी भी मदद ली जाती है। जिसमें कुछ लोग अपना वक्त देते है तो कुछ लोग आर्थिक मदद भी करते हैं। उन्होंने बताया कि धनवंतरी सेवा केन्द्रों के माध्यम से एलडीए कालोनी स्थित राजनारायण अस्पताल, रानी लक्ष्मी बाई चिकित्सालय, में भी मरीजों की भी सहायता की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 + six =