एटीएस ने चैनल टू चैनल पूरे गिरोह का नेटवर्क किया ध्वस्त

 

-पहले सेना में फर्जी सार्टिफिकेट से नौकरी करने वाले बाद में नौकरी लगवाने वाले और फिर अब फर्जी सार्टिफिकेट तैयार करने वालों को दबोचा है- एटीएस आईजी असीम अरूरण
लखनऊ। एटीएस ने सेना में फर्जी सार्टिफिकेट से नौकरी करने वाले को गिरफ्तार करने के बाद चैनल टू चैनल पूरे गिरोह के नेटवर्क को ध्वस्त कर दिया है। पहले फर्जी सार्टिफिकेट से नौकरी करने वाले पकड़ा उसके बाद सेना में नौकरी लगवाने वाले को पकड़ा। जाली सार्टिफिकेट बनाने वाले गिरोह को भी धर दबोचा है। वाराणसी से पकड़े गये हैं तीनो लोग। पिछले दिनों वाराणसी से ही गिरफ्तार किए गए दिलीप व चंद्रहादुर नाम के दो नेपाली युवकों ने पुलिस की पूछताछ में इन तीनों के नाम बताए थे। तभी से एटीएस इनकी तलाश में थी। गिरफ्तार किए गए युवकों में अजय कुमार सिह, नागेश्वर मौर्या व अवध प्रकाश मौर्य शामिल हैं। ये तीनों वाराणसी के ही रहने वाले हैं और कचहरी के पास इनकी फोटोस्टेट की दुकान है। यह जानकारी एटीएस के आईजी असीम अरुण ने दी है। वाराणसी के शिवपुर स्थित साईंधाम कॉलोनी में रहने वाले नागेश्वर की कचहरी के पास फोटोस्टेट की दुकान है। अवध प्रकाश मौर्य यहीं नौकरी करता है और यहीं से अजय सिह के साथ मिलकर फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्र बनवाता है। अवध प्रकाश व अजय मिलकर फर्जी मार्क्सशीट और प्रमाणपत्र तैयार कराते थे। आईजी ने बताया कि पूछताछ में तीनों ने फर्जी शैक्षिक प्रमाणपत्र बनवाने की बात कबूली है। अजय पूर्व में एटीएस द्बारा गिरफ्तार किए गए चंद्र बहादुर खत्री का प्रमुख दलाल है जो खत्री को फर्जी शैक्षणिक प्रमाण पत्र उपलब्ध कराता है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nine − five =