बीजेपी विधायक पर रेप का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की जेल में मौत, एसओ समेत चार सिपाही सस्पेंड

उन्नाव के भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर

लखनऊ। उन्नाव के भाजपा विधायक कुलदीप सेंगर पर रेप का आरोप लगने के बाद अभी दूसरे दिन जांच भी नहीं शुरू हो पायी थी, कि सोमवार को पीडि़त युवती के पिता की जेल में मौत हो गयी। जेल में मौत की खबर से जहां हड़कंप मच गया। वहीं गृह विभाग ने एसओ समेत चार सिपाहियों को सस्पेंंड कर दिया है। इस मामले में कार्रवाई करते हुए एडीजी राजीव कृष्णा ने उन्नाव के एसओ अशोक सिंह और चार सिपाहियों को सस्पेंड कर मारपीट के चार आरोपियों को हिरासत में लिया गया है।
एसपी क्राइम पहुंचे मौके पर
घटना के बाद मौके पर एसपी क्राइम लखनऊ से उन्नाव के लिए पहुंच चुके हैं। इसी के साथ प्रमुख सचिव गृह अरविंद सिंह ने नोटिस जारी कर जेल प्रशासन को तलब कर पूरी रिपोर्ट तत्काल मांगी है। मामला बीजेपी विधायक से जुड़ होने के कारण पुलिस जांच में किसी भी प्रकार की चूक नहीं करना चाहती है।
सीओ कैंट तनु उपाध्याय करेंगी जांच
इस मामले की जांच की सीओ कैंट तनु उपाध्याय को गृह विभाग ने सौंपी है। सीओ से जांच जल्द से जल्द करने के निर्देश भी जारी किए गये हैं। वहीं पुलिस के अन्य अधिकारी भी हर पहलू पर जांच करने में जुटे हुए हैं।
पीडि़त युवती के पिता की सोमवार की सुबह हुई मौत
बताया जा रहा है कि पीडि़त युवती के पिता मौत सोमवार की सुबह तड़के करीब 3 बजे हुई है। पीड़ित के पिता को 4 अप्रैल को आर्म्स एक्ट और मारपीट के आरोप में जेल हुई थी। उन्नाव जेल प्रशासन का कहना है कि पीडि़त युवती के पिता को उल्टी हो रही थी पेट में दर्द भी हो रहा था जिसके बाद उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराय गया था। हालाकि जानकार भी ये भी आ रही है कि मृतक के शव पर गंभीर चोट के निशान मिले हैं। वहीं पीडि़त युवती के परिवार वालों ने विधायक अतुल सेंगर पर हत्या का आरोप लगाया है।
विधायक व उसके गुर्गो पर रेप का आरोप
बीजेपी के विधायक और उनके गुर्गो पर रेप का आरोप है। पीडि़त युवती के मुताबिक वह उन्नाव के माखी थानाक्षेत्र की रहने वाली है। उसका आरोप है कि भाजपा के उन्नाव के विधायक अतुल सेंगर ने उसके साथ दुश्कर्म किया। इसके अलावा विधायक के गुर्गों ने भी उसके साथ रेप किया। ये घटना जून 2017 की बतायी जा रही है। कहा ये भी जा रहा है कि पीडि़ता ने मामले की तहरीर विधायक के खिलाफ पुलिस को दी थी लेकिन पुलिस ने सुनवाई नहीं की।

पीडि़ता के मुताबिक इस तरह टहलाता रहा जिम्मेदार अमला
-पीडि़ता ने सबसे पुलिस को तहरीर दी।
-पुलिस ने उसे टरका दिया, क्योंकि मामला बीजेपी विधायक से जुड़ा था।
-उसके बाद पीडि़ता ने उच्च अधिकारियों से मिली तो भी उसे राहत नहीं मिली।
-पीडि़ता ने मुख्यमंत्री के यहां भी गुहार लगायी लेकिन कुछ समाधान नहीं निकला।         -पीडि़ता ने फिर न्यायालय का दरवाजा खटखटाया।
-लेकिन फिर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।
-हर जगह मामले की जांच की बात कहकर उसे टरका दिया गया।,
-अंत में पीडि़ता न्याय की आस में सीएम आवास के सामने आत्मदाह करने की प्रयास किया।
-दूसरे दिन सोमवार को उसके पिता की जेल में मौत हो गयी।

आत्मादाह के आरोप में लखनऊ पुलिस ने पूरे परिवार को पकड़ा
पीडि़ता को जब कहीं न्याय नहीं मिला तो उसने मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। लेकिन मौके पर मौजूद सुरक्षा कर्मियों ने पीडि़ता को पकड़ लिया। पीडि़ता के साथ उसका परिवार भी आया था। जिसके बाद पुलिस ने पूरे परिवार को पकड़ लिया और उसे थाने ले गयी। लखनऊ पुलिस ने जब उन्नाव पुलिस से संपर्क किया तो उन्नाव पुलिस पूरे परिवार को साथ ले गयी।

विधायक ने कहा आरोप निराधार
इस मामले में उन्नाव विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने अपनी सफाई भी दी है। उन्होंने अपनी सफाई में कहा कि सभी आरोप उनपर निराधार हैं। पुलिस पूरे मामले की जांच निष्पक्षता से करे और जो भी दोषी हैं उनको सजा मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आरोप लगाने वाली महिला के भाई हिस्ट्रीशीटर हैं। माखी थाने में महिला के भाईयों पर कई मुकदमें दर्ज हैं। 26 मुकदमें एक भाई के ऊपर हैं और 16 मुकदमें दूसरे भाई के ऊपर हैं। महिला ने 20/6 को एक मुकदमा कायम कराया था। सभी आरोपियों को पकड़कर 161 और 164 के बयान हुए थे। इस मामले में दो निर्दोष लोगों को लिखाया गया था। जिसमें एक मां और उसकी बेटी थी। पुलिस ने उनको निर्दोश पाया था। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया। ऐसे में आरोप लगाने वाली महिला को लगता है कि हमने उनकी सिफारिश की है। विधायक ने कहा कि महिला ने उन्हें सोशल मीडिया पर भी बदनाम करने की कोशिश की है। जिसके बाद मेरे समर्थकों और कार्यकर्ताओं मानहानि का केस भी दर्ज कराया है। विधायक ने कहा कि आत्मदाह करके मुझे फसाने के लिए प्रेरित करने वालों की भी जांच की जानी चाहिए। ताकि असली दोषियों का चेहरा सामने आ सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + sixteen =