यूपी में अप्रैल के दूसरे सप्ताह से शुरू होगी गेहूं की खरीद, अधिकारियों को सरकार का स्पष्ट निर्देश

लखनऊ। इस गेहूं की कटाई अप्रैल के पहले सप्ताह से शुरू हो जायेगी। इसी को देखते हुए न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद के लिए खाद एवं रसद विभाग ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं। वहीं सरकार की ओर से भी निर्णय लिया गया है कि गेहूं की खरीद अप्रैल के द्वितीय सप्ताह में आरंभ कर दी जाएगी ।
केंद्र सरकार और राज्य सरकार की ओर से मैकेनाइज हार्वेस्टर का उपयोग फसल कटाई के करने की अनुमति दे गयी है। हालांकि इस संबंध में शासन को रिपोर्ट भी भेज दी गयी है कि किस जिले में कितने हार्वेस्टर मौजूद हैं। वहीं शासन ने जिलाधिकारियों को यह निर्देश भेजे हैं हार्वेस्टर के मालिक उनके निवास वाले जिले के जिला अधिकारी को एक लिखित प्रार्थना पत्र देंगे जिसमें हार्वेस्टर को चलाने वाले कुशल कार्मिकों का नाम व पता होगा। संबंधित जिला अधिकारी विवरण को उस जिले को प्रेषित करेंगे जहां कुशल कार्मिक रहते हैं। उनका अंतर्जनपदीय पास संबंधित जिलाधिकारी की ओर से जारी कर दिया जाएगा और इससे बिना किसी बाधा के हार्वेस्टर को संचालित करने स्थान तक पहुंच जाएंगे।
जिलाधिकारियों, बीमा कंपनियों तथा कृषि विभाग के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए गए की प्रत्येक दशा में फसल कटाई प्रयोग निर्धारित समय सीमा पूरी करें। इस प्रक्रिया के पूर्ण होने से जहां प्रदेश में विभिन्न फसलों की उत्पादन व उत्पादकता का आकलन हो सकेगा वहीं अतिवृष्टि व देवी आपदा के प्रभाव से फसलों को हुई क्षति का आकलन हो जाएगा। जिससे बीमित किसानों को उनके क्षति के सापेक्ष मुआवजा भी समय से मिल सकेगा। इस कार्य हेतु बीमा कंपनियों के कर्मचारियों को आवश्यक अनुमति व पास उपलब्ध करा दिया जाएंगे।
मुख्य सचिव की ओर से जारी निर्देश कहा गया कि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की नियमित समीक्षा सुनिश्चित करते हुए आवश्यक वस्तुओं की दरों का अधिकतम मूल्य निर्धारित करते हुए सभी विक्रेताओं से उसे प्रदर्शित करना सुनिश्चित किया जाए, साथ ही जमाखोरी एवं मुनाफाखोरी पर अंकुश लगाया जाए।