UPSEE Result 2020: ​परिणाम जारी, 91.78 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल, ये है काउंसिलिंग का शेड्यूल

UPSEE Result 2020: यूपी के इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट कॉलेजों में प्रवेश के लिए डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित हुई राज्य प्रवेश परीक्षा (यूपीएसईई) का परिणाम जारी कर दिया गया है। परिणाम की घोषणा की एकेटीयू के कुलपति प्रो. विनय पाठक ने प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान की। उन्होंने बताया कोरोना काल में ​इस बार जिस तरह से परीक्षाएं बेहद मुश्किल हुई थी, उसके हिसाब से परिणाम समय से जारी किया गया है। उन्होंने बताया कि इस 91.78 प्रतिशत परीक्षार्थी सफल हुए हैं। उन्होंने कहा विश्वविद्यालय के लिए यह हर्ष का विषय है कि जब पूर्व राष्ट्रपति व महान वैज्ञानिक डॉ एपीजे अब्दुल कलाम की जयंती पर यह परिणाम जारी किया गया।


अलग—अलग कोर्सों में ये रहे टॉपर
— बीटेक में मुरादाबाद के सयंम सक्सेना प्रथम
— बीफार्मा में मुजफ्फरनगर की रिद्धी सिंहल प्रथम
—एमबीए में लखनऊ के गौरव गोविल प्रथम
—एमसीए में कानपुर के हर्षित प्रथम
—बीआर में दिल्ली की परवारी प्रथम

एकेटीयू की ओर से जारी राज्य प्रवेश परीक्षा यूपीएसईई का प​रिणाम में अलग—अलग कोर्सों में छात्रों ने काफी बेहतर प्रदर्शन किया है। कोरोना काल के बीच जिस इस बार विश्वविद्यालय की ओर से बहुत ही कठिन परिस्थितियों में परीक्षा 20 सितंबर को आयोजित हुई थी। परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों ने  बातचीत में अपने विचारों को साझा किया। बीटेक में प्रथम स्थान पर रहे मुरादाबाद के संयम सक्सेना ने बताया कि इंजीनियरिंग क्षेत्र में जाना उनका सपना था, और वह इस बात से बेहद खुश है कि उन्हें अब देश के प्रतिष्ठित तकनीकी संस्थान में एडमिशन मिल सकेगा। वहीं बीफार्मा में मुजफ्फरनगर की रिद्धि सिंघल बताया कि उनके माता पिता का सपना था कि मेडिकल के क्षेत्र में देश का नाम रोशन करूं। इसके लिए वह एडमिशन के बाद कड़ी मेहनत के​ लिए तैयार हैं। बीआर्क में टॉपर हुई दिल्ली की आयुषी पटवारी ने बताया कि आर्किटेक्चर इंजीनियरिंग के क्षेत्र में वह खूब नाम कमायें, इसलिए वह इसी क्षेत्र में खूब पढ़ाई करके अपना नाम कमाना चाहती हैं। वहीं एमसीए में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले कानपुर के हर्षित ने बताया कि वह मास्टर आफ कंप्यूटर एप्लीकेशन से पढ़ाई करके कम्प्यूटर की दुनिया में अपना नाम कमाना चाहते हैं।

एमबीए में लखनऊ के गौरव गोविल टॉपर
यूपीएसईई के परिणाम लखनऊ के मेधावियों ने भी मान बढ़ाया है। एमबीए में लखनऊ निवासी गौरव गोविल ने पहला स्थान प्राप्त किया है। गौरव गोविल ने बताया कि मैनेजमेंट की पढ़ायी करके वह अपने मां बाप का नाम रोशन करना चाहते हैं। गौरव ने बताया कि यूपीएसईई को पास करने के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत कि है और एडमिशन के बाद आगे भी मेहनत से पढ़ायी करेंगे।

पहली बार चैटबॉट की मिली सुविधा
परिणाम जारी करते हुए एकेटीयू के कुलपति ने बताया यूपीएसईई पास छात्रों को पहली बार व्हाट्सऐप चैटबॉट से परिणाम जानने की सुविधा दी गयी है। उन्होंने बताया कि जो नंबर पहले से छात्र का रजिस्टर्ड है उससे मैसेज भेजा जायेगा छात्रा को उसके परिणाम का विवरण मिल जायेगा उन्होंने बताया कि परिणाम का विवरण विश्वविद्यालय की वेबसाइट upsee.nic.in पर भी अपलोड किया गया है।

दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे ये परीक्षार्थी
यूपीएसईई परिणाम में वाराणसी के आकाश सिन्हा दूसरे स्थान पर हैं, प्रयागराज के जय कुमार तीसरे स्थान पर रहें। वहीं, बीफार्मा में धनराज राठी दूसरे स्थान पर और गोरखपुर की ऐश्वर्या गणेश तीसरे स्थान पर रहीं। एमबीए में मुरादाबाद के शुभम शर्मा दूसरे और लखनऊ के मन सक्सेना तीसरे पर रहें। एमसीए में लखनऊ की प्रिंसी त्रिवेदी दूसरे, कानपुर के धीरज कुकरेजा तीसरे पर। बीआर में बरेली की जयशानि उपाध्याय दूसरे और मेरठ की पावनी अरोड़ा तीसरे पर रहीं। परीक्षा का आयोजन 20 सितंबर को किया गया था।

पांच चरणों में होगी काउंसलिंग
एकेटीयू ने कॉलेजों में दाखिले के लिए काउंसलिंग का कार्यक्रम भी जारी कर दिया है। काउंसलिंग की प्रक्रिया आगामी 19 अक्तूबर से शुरू होगी। काउंसलिंग पांच चरणों में कराई जाएगी। चार चरणों में अभ्यर्थी को कोई सीट न मिलने पर पांचवें चरण में विशेष काउंसलिंग होगी। खास बात यह है कि काउंसलिंग पूरी तरह से ऑनलाइन होगी। 21 नवम्बर से छात्र कॉलेजों में रिपोर्ट कर सकेंगे। हालांकि, कक्षाएं ऑनलाइन चलेंगी या ऑफलाइन इस पर शासन के निर्देशों के हिसाब से बाद में फैसला लिया जाएगा।

तिथिवार ऐसे होगी काउंसिलिंग
— पहले चरण में 19 से 22 अक्तूबर
—सत्यापन प्रक्रिया 20 से 23 अक्तूबर
— विकल्प भरने के लिए 20 से 26 अक्तूबर
—26 अक्तूबर को सीट का आवंटन किया जाएगा।
—29 अक्तूबर तक फीस जमा करनी होगी।
— दूसरे चरण की काउंसिलिंग 30 अक्तूबर से 8 नवम्बर
— तीसरे चरण में 9 नवम्बर से काउंसलिंग
— 18 नवम्बर को सीट का आवंटन
— 21 नवम्बर से छात्र संबंधित कॉलेज में रिपोर्ट करेंगे

विशेष काउंसलिंग एक दिसम्बर से
पांचवें और अन्तिम चरण में कुल खाली सीट पर दाखिले के लिए विशेष काउंसलिंग कराई जाएगी। यह काउंसलिंग 1 दिसम्बर से कराई जाएगी। दस्तावेजों का सत्यापन 1 से 3 दिसम्बर तक होंगे और 5 दिसम्बर को सीट आवंटित की जाएगी।

आवंटन के बाद इनकार किया तो कटेगा पैसा
प्रो. विनीत कंसल ने बताया कि सीट कन्फर्मेशन के लिए अभ्यर्थियों को शुल्क जमा करना होगा। सामान्य वर्ग की फीस 20 हजार और एससी/एसटी की फीस 12 हजार रुपये है। आवंटन के बाद दाखिला लेने से इनकार करने पर शुल्क कटेगा। सामान्य वर्ग के अभ्यर्थी को 5000 रुपये और अन्य वर्ग के अभ्यर्थियों को 3 हजार रुपये का शुल्क काटा जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.