यूपी बोर्ड परीक्षा 2019-20 में इस बार आसान नहीं होगी नकल, सीसी टीवी कैमरों का होगा रियलटी टेस्ट

google image
लखनऊ। यूपी बोर्ड परीक्षा 2019-20 की परीक्षा में निगरानी के लिए बोर्ड के अधिकारियों ने इस बार और बड़ी तैयारियां की है। ऐसे में नकल का रास्ता निकाल पाना आसान नहीं होगा, छात्र नियमित तैयारी करें यही बेहतर है। पिछले पांच सालों के आकड़ों के मुताबिक जिन जिलों में अधिक नकल की शिकायतें आयी हैं उनको देखते हुए जिलो में भी इस बार परीक्षा के लिए कड़े इंतजाम किए गये हैं। अधिकारियों के मुताबिक सचल दलों की संख्या भी बढ़ायी जा सकती है। इस बारे में प्रदेश के डिप्टी सीएम व माध्यमिक शिक्षा मंत्री डा. दिनेश शर्मा की ओर से भी स्पष्टï कर दिया गया है कि परीक्षा के दौरान निगरानी में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। डा. दिनेश शर्मा की यह भी कहना है कि परीक्षा में पारदर्शिता के लिए जो भी जरूरी कदम हैं वह उठाने के लिए अधिकारियों को दिशा निर्देश भी जारी किए गये हैं। हालांकि बोर्ड की ओर से परीक्षा की तिथि हर साल के लिए 18 फरवरी पहले ही निर्धारित कर दी गयी है, इस तिथि में किसी भी परिवर्तन के भी कोई चांस नहीं है।
दबाव में न आये परीक्षार्थी-डा. आरपी मिश्रा
परीक्षा की तैयारी सभी परीक्षार्थियों ने शुरू भी कर दी है। इस बारे में माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रादेशीय मंत्री डा. आरपी मिश्रा ने कहना है कि बोर्ड परीक्षाओं को लेकर छात्र-छात्राएं हमेशा दबाव में आ जाते हैंए जबकि सही मायने में देखा जाए तो बिना दबाव कि यदि तैयारी की जाए तो यह ज्यादा कारगर साबित होती है। उन्होंने कहा कि सबसे पहले तो आपको सिलेबस को अच्छी तरह से पढ़ और समझ लेना चाहिए, उन्होंने कहा कि एग्जाम का एडमिट कार्ड मिल रहा है तो एडमिट कार्ड में आपको यह देख लेना चाहिए कि जो विषय आपने चुना था, वे विषय इसमें मौजूद हैं या नहीं।
पांच साल के प्रश्नपत्रों को देखने से मिलेगा फायदा
बीते 5 साल का प्रश्न पत्र आपको जरूर देख लेना चाहिए। इससे आपको अंदाजा हो जाता है कि किस प्रकार के सवाल पूछे जाते हैं। बीते वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल कर लेने से आपका आत्मविश्वास बढ़ता है और परीक्षा देने में आपको आसानी होती है। आपको हर परीक्षा में एडमिट कार्ड लेकर जाना है। इसलिए आपको इसका लेमिनेशन करवा कर रख लेना चाहिए। दृ परीक्षा कितने अंकों की हैए इसकी जानकारी आपको रखनी चाहिए और किस सेक्शन में कितने नंबर के सवाल पूछे जाते हैं। इसके बारे में भी आपको पता होना चाहिएए क्योंकि इसके अनुसार ही आपको अपना उत्तर देने की तैयारी करनी चाहिए।
परीक्षार्थी इन बातों का भी रखें ध्यान
-कितने प्रतिशत नंबर लाना है लक्ष्य तय होना चाहिए
-नियमित दो घंटे कम से कम पढ़ाई करना चाहिए
-लिखने की भी प्रैक्टिस जारी हो इससे नंबर अच्छे मिलेंगे
-उत्तर पुस्तिका मैं सब कुछ साफ. साफ लिखा हो
-उत्तर लिखते वक्त आप ब्लू पेन का इस्तेमाल कर सकते हैं।
-काले रंग से आप हेडिंग और सब हेडिंग डाल सकते हैं।
-जो सवाल पहले आते हों उनको पहले हल करना चाहिए।
-बिल्कुल टेंशन फ्री परीक्षा देने के लिए केन्द्र पर पहुंचना होगा।

यूपी बोर्ड परीक्षा में पूरी पारदर्शिता रहे इसके लिए अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए गये हैं, परीक्षा से पहले केन्द्रों की मूलभूत सुविधाओं और सीसी टीवी कैमरे की व्यवस्था का रियलटी चेक करने के लिए निर्देश दिए गये हैं।
-डा. दिनेश शर्मा डिप्टी सीएम व माध्यमिक शिक्षा मंत्री

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three − three =