UP 10th and 12th Board Result 2017: लड़कियों ने लहराया जीत का परचम

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की इस साल की 10वीं और 12वीं की परीक्षाओं में लड़कियां अव्वल रहीं. फतेहपुर जिले की तेजस्वी देवी 95.83 प्रतिशत अकों के साथ 10वीं की परीक्षा में पहले स्‍थान पर रही हैं, वहीं इसी जिले की प्रियांशी तिवारी 96.20 प्रतिशत मार्क्‍स के साथ 12वीं की परीक्षा में अव्वल रहीं. बोर्ड ने आज ही 10वीं और 12वीं की परीक्षा के रिजल्‍ट जारी किए हैं.

10वीं और 12वीं की परीक्षाओं के नतीजों की घोषणा करते हुए शिक्षा निदेशक (माध्यमिक) अमरनाथ वर्मा ने कहा, ‘10वीं की परीक्षा में दूसरे पायदान पर चार विद्यार्थी रहे. इसमें भी दो लड़कियां- प्रगति सिंह और अमीना खातून शामिल हैं. दोनों ही लड़कियां बाराबंकी जिले से हैं. इसी तरह, 12वीं की परीक्षा में दूसरे और तीसरे पायदान पर छात्राओं का बोलबाला रहा.’

बारहवीं की परीक्षा में कानपुर देहात की भावना 95.80 प्रतिशत, फतेहपुर की सोनम सिंह 95.80 प्रतिशत और फतेहपुर की विजय लक्ष्मी सिंह 95.80 प्रतिशत के साथ दूसरे नम्‍बर पर रहीं. इसी तरह, फतेहपुर की प्रियंका द्विवेदी 95.40 प्रतिशत और फतेहपुर की ही अनुराधा पांडेय 95.40 प्रतिशत अंकों के साथ तीसरे पायदान पर रहीं.

वर्मा ने बताया कि हाईस्कूल की परीक्षा में द्वितीय स्थान हासिल करने वाले छात्रों में हरदोई के क्षितिज सिंह (95.33 प्रतिशत) और इसी जिले के नवनीत कुमार दिवाकर (95.33 प्रतिशत) शामिल हैं. वहीं, तीसरे स्थान पर हरदोई के रवि पटेल (95.17 प्रतिशत) और बाराबंकी के प्रियांशु वर्मा (95.17 प्रतिशत) रहे.

अमरनाथ वर्मा ने बताया कि हाईस्कूल की परीक्षा में कुल 29,98,492 परीक्षार्थी शामिल हुए, जिसमें से कुल 24,34,242 परीक्षार्थी (81.18 प्रतिशत) उत्तीर्ण घोषित किए गए.

उन्होंने कहा कि दसवीं की परीक्षा में 16,34,203 छात्र और 13,64,289 छात्राएं शामिल हुईं, जिनमें 12,54,171 छात्र और 11,80,071 छात्राएं उत्तीर्ण घोषित हुईं. उत्तीर्ण हुए छात्रों का प्रतिशत 76.75 और छात्राओं का प्रतिशत 86.50 रहा. इस तरह से इस परीक्षा में छात्राओं का उत्तीर्ण प्रतिशत, छात्रों की तुलना में 9.75 फीसदी अधिक है.

उन्होंने बताया कि इंटरमीडिएट (12वीं) की परीक्षा में कुल 25,22,017 परीक्षार्थी शामिल हुए जिसमें से 20,83,724 परीक्षार्थी (82.62 प्रतिशत) उत्तीर्ण घोषित किए गए. इस परीक्षा में 13,39,557 छात्र शामिल हुए और 10,33,644 छात्र उत्तीर्ण घोषित किए गए. इसी तरह, परीक्षा में 11,82,640 छात्राएं शामिल हुईं और 10,50,080 छात्राएं उत्तीर्ण घोषित की गईं.

वर्मा ने कहा कि इंटरमीडिएट की परीक्षा में उत्तीर्ण हुईं छात्राओं का प्रतिशत, छात्रों के मुकाबले 11.64 फीसदी अधिक है. उल्लेखनीय है कि हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं इस साल मार्च और अप्रैल के महीने में आयोजित हुई थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eleven − 1 =