दलितों के उत्पीड़न का केन्द्र बना यूपी, आप पार्टी के सांसद संजय सिंह ने योगी सरकार पर खड़े किए सवाल

लखनऊ। योगीराज में प्रदेश दलितों के उत्पीड़न का केंद्र बनता जा जा रहा है, यहां अभिरक्षा में लोगों की पीट पीटकर हत्या की जा रही है, लेकिन सरकार कह रही कानून व्यवस्था बेहतर है। ये बात आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य व सांसद संजय सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि जिन पुलिसवालों पर जनता की सेवा और रक्षा का दायित्व है अब योगी सरकार में वही हत्या करके मौज कर रहे हैं। बुधवार को आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस के दौरान उन्होंने कहा कि आगरा में योगी की पुलिस ने पीटकर एक सफाई कर्मचारी अरुण की हत्या कर दी। इसके लिए सरकार पीड़ित परिवार को एक करोड़ रुपये सहयोग राशि,व नौकरी दे। दोषी पुलिसकर्मियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज होना चाहिए। उन्होंने कहा कि महोबा के व्यवसायी इंद्रकांत त्रिपाठी की हत्या का आरोपी अफसर पाटीदार खुलेआम घूम रहा है। व्यापारी मनीष गुप्ता के हत्यारे भी पुलिसवाले ही थे। संजय सिंह ने कहा कि पुलिस द्वारा अरुण की हत्या कोई सामान्य घटना नहीं है।  

फ्री बिजली गारंटी योजना से मिलेगा लाभ
संजय सिंह ने कहा कि बिजली गारंटी योजना उत्तर प्रदेश के किसानों, गांव के लोगों और आम शहरियों के लिए बहुत बड़ी संजीवनी साबित होगी। आप पार्टी प्रत्येक परिवार को 300 यूनिट बिजली फ्री, बिजली के सभी पुराने बिल माफ कर देगी।

महिलाओं को आरक्षण देने का बने कानून
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी द्वारा टिकट वितरण में 40 फीसद महिलाओं को भागीदारी देने से जुड़े सवाल पर संजय सिंह ने कहा कि जैसे पंचायत चुनावों, लोकल बाॅडी के चुनावों में आरक्षण है उस तरह हर चुनावों में महिलाओं की भागीदारी के लिए संसद द्वारा कानून बन जाना चाहिए। 

चिटफंड कंपनियों के लिए प्रकोष्ठ गठित
संजय सिंह ने बताया कि आदमी अपनी गाढ़ी कमाई चिटफंड कंपनियों के लोकलुभावन वादों में लगाता है लेकिन अंततः ठगा ही जाता है। इसके विरुद्ध आम आदमी पार्टी ने अब लड़ाई लड़ेगी। उन्होंने कहा इस प्रकोष्ठ में रविशंकर गौतम, रामदेव गौतम और डाॅक्टर रामसागर शुक्ल प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किए गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

8 + two =