अर्थ व्यवस्था को एक नई दिशा देगा यह आम बजट 2020 , डॉ सतीश चन्द्र द्विवेदी

लखनऊ। केन्द्र सरकार का यह आम बजट अर्थ व्यवस्था की नई दिशा दिखायेगा। इस बजट से निश्चित ही बदलाव देखने को मिलेगा। ये बात बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ सतीश चन्द्र द्विवेदी ने अमृत विचार से बातचीत में कही। उन्होंने कहा कि इस वर्ष का बजट इस पूरे दशक में अर्थव्यवस्था को दिशा देने वाला बजट है। उन्होंने कहा कहा कि पांच लाख रुपये तक की आय को कर मुक्त करके और कर की दरों में नये स्लैब बनाकर छूट देने से जहां एक ओर कर के ढांचे को सरल बनाया गया है और मध्यम वर्ग को बड़ी राहत दी गयी है वहीं दूसरी ओर मांग बढ़ाकर अर्थव्यवस्था की ग्रोथ रेट बढ़ाने का प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि यह बजट किसानों, युवाओं, महिलाओं, एससी एसटी और वरिष्ठ नागरिकों के लिए हितकारी बजट है। इस बजट में कृषि, सिंचाई और ग्रामीण विकास पर विशेष ध्यान दिया गया है। जीरो बजट कृषि को अपनाने की बात कहकर खेती की लागत घटाने और जैविक खेती को बढ़ावा देने का प्रयास किया गया है। इसी प्रकार किसान रेल किसान उड़ान और ग्रामीण क्षेत्रों में विलेज स्टोरेज बनाने की बात करके कृषि क्षेत्र के विकास के लिए बड़े कदम उठाए गए हैं। 1.25 लाख किलोमीटर सड़कों को अपग्रेड करने तथा 100 नए एयरपोर्ट बनाने की बात करके यातायात एवं परिवहन को सुगम बनाने हेतु एक बड़ा कदम उठाने के साथ ही साथ देश के आधारभूत ढांचे को मजबूत बनाने का प्रयास भी किया गया है। हर जिलों में अस्पताल को मेडिकल कॉलेज बनाने की घोषणा स्वास्थ्य के क्षेत्र में क्रांतिकारी कदम है। सरकारी नौकरियों में भर्ती के लिए नयी एजेंसी बनाने और कौशल विकास के लिए 3 हजार करोड़ रुपए की राशि निर्धारित करके युवाओं को रोजगार देने हेतु महत्वपूर्ण कदम उठाये गए है। जो बेहद सराहनीय है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × two =