लखनऊ में सुरक्षा के लिए पुलिस कप्तान ने उठाया बड़ा कदम, अब इस नाम से जाने जायेंगे सिपाही

न्यूज डेस्क। यूपी की राजधानी लखनऊ के पुलिस कप्तान कलानिधि नैथानी ने एक बड़ा कदम उठाया है, इससे जहां लोगों को आसानी से सुरक्षा मिल सकेगी वहीं , अपराधियों पर भी शिकंजा कसा जा सकेगा। कप्तान ने बीट संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया है, ऐसे में अब 3000 हजार बीटों पर पुलिस काम करेगी। जबकि अभी तक 229 बीटे ही थी। वहीं बीट पर काम करने वाले सिपाहियों को बीओपी के नााम से जाना जायेगा। रविवार को पुलिस कप्तान कलानिधि नैथानी ने मोहनलाल गंज थाने का औचक निरीक्षण भी किया। इस दौरान उन्होंने बीट संख्यसा बढ़ाये जाने का आदेश भी दिया।
स्वच्छ बनाये रखना होगा सभी थानों को
पुलिस कप्तान ने सभी थाना प्रभारियो ंको निर्देश दिया है कि वह अपने-अपने थानों की स्वच्छता का भी विशेष ध्यान रखे। वहीं आने जाने वाले फारियादियों को भी सम्मान दें। मोहनलाल गंज थाने का निरीक्षण करते हुए कप्तान ने थाने पर रखे तमाम अभिलेखों का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने आठ बीट पर 76 सिपाही होने पर बीट की संख्या बढ़ाकर 70 करने के निर्देश भी दिए। साथ ही एसएसपी ने प्रत्येक बीट पुलिस अफसर को बीट बुक बनाये जाने के निर्देश भी दिए। उन्होंने पुलिसकर्मियों को अपने बीट से जुड़ी प्रत्येक सूचनाएं दर्ज करने को कहा।
बीट आरक्षी कहलाएंगे बीपीओ
एसएसपी ने कहा कि बीट पर तैनात/नियुक्त मुख्य आरक्षी/आरक्षी को बीट पुलिस ऑफिसर बीपीओ के नाम से सम्बोधित किया जाएगा। वहीं एसएसपी एक भी सिपाही पुलिस हेल्पलाइन के बारे में नहीं बता सकने पर नाराज हुए। उन्होंने समस्त पुलिस अधीक्षक/ अपर पुलिस अधीक्षक/क्षेत्राधिकारी को निर्देशित किया गया कि वह अपने-अपने सर्किल से प्रतिदिन एक-एक मुख्य आरक्षी/आरक्षी को बुलाकर उनकी बीट बुक चेक करेंगे।

Ravi Gupta

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.