शिक्षकों को सेवा पुस्तिका होगी ऑनलाइन, दूर होगी समस्या, बेसिक शिक्षा मंत्री का आश्वासन

लखनऊ। राष्टï्र निर्माण में शिक्षकों की भूमिका सबसे अहम होती है, ऐसे में उनको यदि कोई समस्या है तो तत्काल निस्तारण किया जायेगा। सभी शिक्षकों की सेवा पुस्तिका को भी जल्द ही ऑनलाइन किया जायेगाी। सरकार का प्रयास है कि शिक्षा का स्तर भी सुधरे और शिक्षकों का सम्मान भी बढ़े। ये बात बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डा. सतीश चन्द्र द्विवेदी ने कही। डा. द्घिवेदी उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षक संध द्वारा स्वागत समारोह के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे। इस मौके पर उन्होंने शिक्षक संघ की ओर से प्रस्तुत किए गये मांग पत्र को स्वीकार किया और सभी मांगो पर व्यापक विचार विमर्श करने के उपरान्त समाधान कराये जाने का आश्वासन दिया।
भातखण्डे संगीत सम विश्वविद्यालय सभागार कैसरबाग में आयोजित समारोह में डा. द्विवेदी ने कहा कि शिक्षकों की उचित समस्याओं का निस्तारण शीघ्र कराये जाने का पूरा प्रयास किया जायेगा। उन्होने कहा कि हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है कि बच्चों को अच्छी शिक्षा मिले और शिक्षकों की समस्याओं का निराकरण भी समयानुसार कराया जायेगा। उन्होने यह भी कहा कि आने वाले समय में शिक्षक व शिक्षिकाओं की सेवा पुस्तिका को आनलाईन कराया जायेगा।
इस अवसर पर उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष श्री दुर्गा चरन सिन्हा ने लार्ड मैकाले की शिक्षा पद्वति और दोहरी शिक्षा नीति समाप्त करने, माध्यमिक शिक्षा चयन बोर्ड के उपलब्धियॉ शून्य होने तथा सोसाइटी अधिनियम 1860 के अन्तर्गत पंजीकृत प्रबन्ध समितियों के अधिकारो के दृष्टिगत बेसिक शिक्षा चयन बोर्ड के गठन पर अॅंकुश लगाये जाने, उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालयों की भॉति परिषदीय/मान्यता प्राप्त पूर्व माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों को शिक्षक मतदाता बनने हेतु भारतीय संविधान के अनुच्छेद-171/3(ग) को संशोधित करने के उददेश्य सें विधानमण्डल दल का प्रस्ताव केन्द्र सरकार को प्रेषित किये जाने सहित अन्य बिन्दुओं का मांग पत्र प्रस्तुत किया। इस अवसर पर बाकें बिहारी यादव, श्री गोपाल सिंह, राम मोहन शुक्ला, जयकरन यादव व श्री तेज बहादुर सिंह सहित आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + nine =