ताजपोशी होते ही राहुल गांधी ने साधा बीजेपी पर निशाना, कहा आग फैलाने की हो रही कोशिश

file photo

दिल्ली। राहुल गांधी की कांग्रेस अध्यक्ष पद पर ताज पोशी हो चुकी है। अध्यक्ष बनते ही उन्होंने सबसे पहले जो बयान दिया उससे वह बीजेपी के प्रति बेहद ही आक्रोशित दिख्ो। उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा देश में कुछ लोग राजनीति की आड़ में आग फैलाने कोशिश कर रहे हैं। एक बार जब आग फैलती है तो उसे बुझाना बेहद ही मुश्किल होता है। उनका इशारा बीजेपी की ओर था। राहुल गांधी का यह संबोधन अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार था। राहुल गांधी ने कहा कि राजनीति देश की सेवा करने के लिए होती है न कि लोगों आम लोगों को दबाने के लिए होती है।
देश को पीछे ले जा रहे हैं प्रधानमंत्री मोदी
राहुल गांधी अभी यहीं नहीं रुके उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र् मोदी पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश को आगे बढ़ाने की बजाय पीछे ले जा रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी देश में आग लगाने का काम कर रही है। जिसकी स्थिति आगे चलकर भयानक हो सकती है।
वह तोड़ते हैं हम जोड़ते हैं
हम तोड़ने से ज्यादा जोड़ने पर ध्यान देते हैं। और बीजेपी सिर्फ तोड़ने का काम कर रही है। राहुल गांधी ने ये भी कहा कि हम बीजेपी की कार्य प्रणाली से सहमत नहीं है। उन्होंने कहा कि मैं हमेशा देश के हित में काम करता रहूंगा।
मॉ सोनियां गांधी और पूर्व पीएम की मौजूदगी में संभाली कमान
राहुलगांधी ने शनिवार को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और मां सोनिया गांधी की मौजूदगी में अध्यक्ष पद की कमान संभाली। पार्टी के केंद्रीय चुनाव समिति के अध्यक्ष एम रामचंद्रन ने राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनने पर प्रमाणपत्र सौंपा। इस मौके पर

मुश्किल दौर में पार्टी की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं राहुल
राहुल की ताजपोशी के मौके पर उपस्थित पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि राहुल जिस समय पार्टी के अध्यक्ष पद की कमान संभाल रहे हैं वह बेहद ही मुश्किल दौर है। पूरे देश में डर का माहौल बना हुआ है।

राजनीतिक हमलों से मजबूत हुए राहुल
वहीं सोनियां गांधी ने राहुल गांधी को हौसला देते हुए कहा कि राहुल गांधी राजनितिक हमलों से और मजबूत हुए हैं। सोनिया ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में यह मेरा आखिरी संबोधन है। उन्होंने कहा कि हमारा गांधी परिवार का हर सदस्य देश की आजादी के लिए जेल गया। इंदिरा ने उन्हें बेटी की तरह अपनाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 − one =