NTPC रायबरेली- गम्भीर घायलों को मिलेगी एयर एम्बुलेंस की सुविधा

-तीमारदारों के ठहरने एवं भोजन की व्यवस्था करने के निर्देश
-घायलों के उपचार में किसी प्रकार की कमी नहीं आने दी जायेगी-स्वास्थ्य मंत्री
लखनऊ। प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिह ने आज एनटीपीसी ऊंचाहार रायबरेली में दुर्घटना से प्रभावित घायलों को सिविल अस्पताल में देखने के बाद कहा कि आवश्यकता पड़ने पर गम्भीर रोगियों को एयर एम्बुलेंस की सुविधा उपलब्ध करायी जायेगी और उपचार के लिए अन्य चिकित्सालयों में भी भर्ती कराया जायेगा। उन्होंने इस घटना को दुर्भाग्यपूणã बताते हुए कहा कि घटना की सूचना मिलते ही राज्य सरकार ने तत्काल हरकत में आकर घायलों के उपचार एवं बचाव का कार्य शुरू कर दिया है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री आज यहां श्यामा प्रसाद मुखर्जी चिकित्सालय में भर्ती 22 घायल रोगियों का हाल-चाल लेने के बाद मीडिया से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस हादसे से प्रभावित लोगों को बेहतर उपचार सुलभ कराने के लिए पूरी तत्परता से कार्य कर रही है। चिकित्सकों की टीम उपचार में लगी हुई है। राजधानी के दूसरे अस्पतालों में भर्ती घायलों का अच्छा से अच्छा इलाज किया जा रहा है। राज्य सरकार निरन्तर घायलों और उनके परिजनों के सम्पर्क में है। उनके परिजनों/तीमारदारों के ठहरने एवं भोजन आदि की समुचित व्यवस्था किये जाने के निर्देश दे दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि 5० एम्बुलेंस लगाकर घायलों को राजधानी एवं अन्य दूसरे अस्पतालों में पहुंचाया गया। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस समय मारीशस में होने के बावजूद भी स्थिति पर लगातार नजर रखें हुए हैं। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को घायलों को उच्च स्तरीय नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा देने के निर्देश दिए है। साथ ही आर्थिक सहायता की भी घोषणा की है।
9० बेडों को किया गया आराक्षित
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही 9० बेड राजधानी के अस्पतालों में आरक्षित करा लिए गये थे। अधिकांश घायलों को सिविल अस्पताल के बर्न यूनिट में रखा गया है। उन्होंने बताया कि अस्पतालों में घायलों के समुचित उपचार के निर्देश दे दिए गए हैंै और आवश्यक व्यवस्था भी करा दी गयी है। उन्होंने बताया कि 9० प्रतिशत झुलसे हुए चार मरीजों में से दो को वेंटीलेटर की जरूरत पड़ने पर डा. राम मनोहर लोहिया संयुक्त चिकित्सालय, गोमतीनगर रिफर कर दिया गया है। इनके अलावा 22 घायलों का उपचार सिविल अस्पताल में किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस घटना के प्रति पूरी तरह संवेदनशील है। घायलों के उपचार में किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं आने दी जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 + 12 =