जम्मू कश्मीर में बढ़ सकते हैं प्रॉपर्टी के रेट, ये है वजह

न्यूज डेस्क। जम्मू-कश्मीर के लिए विशेष दर्जे को रद्द करने के फैसले से स्थानीय लोगों के लिए संपत्ति की कीमतें बढऩे की संभावना है। संपत्ति सलाहकार एनारॉक ने सोमवार को यह जानकारी दी है। श्रीनगर में कीमतें गिर कर प्रति वर्ग फुट 2,200-4,000 रुपये के दायरे में आ गयी थीं। हालांकि, एनरॉक ने एक रपट में यह भी कहा है कि सुरक्षा चिंता, संभावित संपत्ति खरीदारों को फिलहाल वहां जमीन जायदाद की खरीद से दूर रख सकती हैं।
एनारॉक के अध्यक्ष अनुज पुरी ने एक रिपोर्ट में कहा, सरकार के हाल के अनुच्छेद 370 और अनुच्छेद 35 (ए) को रद्द करने के फैसले से जम्मू-कश्मीर के समग्र रियल एस्टेट बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पडऩे की उम्मीद है, जो अब तक बेहद निराशाजनक स्थिति में था।” उन्होंने कहा कि उदाहरण के लिए, श्रीनगर में संपत्ति की कीमतें, अभी भी 2,200 – 4,000 रुपया प्रति वर्ग फुट के बीच हैं – जो देश के अन्य टियर 2 और टियर 3 शहरों के लिए काफी कम है।
पुरी ने कहा, एक तरफ, स्थानीय लोग आखिरकार अपनी संपत्तियों के मूल्य में वृद्धि देखेंगे। दूसरी तरफ, वास्तव में रोमांचक संभावना इस बात की है कि जम्मू-कश्मीर के बाहर के भारतीयों के लिए अचल संपत्तियों में निवेश के अवसर बढ़े। अनारोक के अध्यक्ष ने उल्लेख किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम अपने हाल के संबोधन में बॉलीवुड के फिल्म निर्माता सहित विभिन्न उद्योगों को उस इस क्षेत्र में निवेश करने को आमंत्रित किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.