मोदी-योगी के हाथ में सत्ता बन जाती है विकास का पर्याय : स्वतंत्र देव

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन वैज्ञानिकों ने देश का नाम पूरे विश्व मे ऊंचा किया है उन वैज्ञानिकों का राहुल गांधी ने अपमान किया। उन्होंने कहा कि सरदार पटेल, बाबा साहब अम्बेडकर, डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के सपनों को भाजपा सरकार साकार करने में जुटी है। धारा 370 की समाप्ति इसी नीति का हिस्सा है। सपा, बसपा को निशाने पर रखते हुए कहा कि सपा और बसपा परिवारवाद से पोषित पार्टियां है। जिनकी सरकारों में भ्रष्टाचार का बोलबाला रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा ने एक साधारण से कार्यकर्ता को टिकट दिया है।
श्री सिंह ने बाराबंकी में जैदपुर विधानसभा, बहराइच में बलहा विधानसभा, अम्बेडकर नगर में जलालपुर विधानसभा तथा मऊ में घोषी विधानसभा में भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित रैलियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कहा कि भाजपा सरकार गाँव, गरीब, किसान, शोषित, दलित सहित सभी वर्गों की सरकार है। उन्होंने कहा कि मोदी के साहसिक निर्णय के बूते ही श्रीनगर के लाल चौक में तिरंगा लहरा रहा है। उन्होंने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार एवं प्रदेश की योगी सरकार गरीबों, वंचितों और शोषितों की सरकार है। हमारी सरकार ने युवाओं को रोजगार से जोडऩे का कार्य किया है और अनेकों जनकल्याणकारी योजनाएं चलायी है। सुकन्या समृद्धि योजना, जनधन योजना, सौभाग्य योजना चलाकर गांव-गांव बिजली पहुंचाने का कार्य हमारी सरकार ने किया है। वही गांव कि गरीब मताओं और बहनों को ध्यान में रखकर उज्जवला योजना चलायी ताकि मातृ शक्तियों को धुएं से बचाया जा सके। उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि बलहा विधानसभा के विकास को आगे बढ़ाने के लिए भाजपा प्रत्याशी सरोज सोनकर को भारी मतों से जिताकर विधानसभा भेजे।
श्री सिंह ने कहा कि राजनीति जब प्रभु राम के हाथ में होती है तो मर्यादा बन जाती है, जब श्रीकृष्ण के हाथों में राजनीति जाती है तो युक्ति बन जाती है। उन्होंने कहा कि जब राजनीति सपा बसपा के हाथ में जाती है तो भ्रष्टाचार, जातिवाद व परिवारवाद रूप धारण करती है। वहीं जब सत्ता कांग्रेस के हाथ में जाती है तो भ्रष्टाचार की जननी बन जाती है। राजनीति जब देश के गौरव अटल बिहारी बाजपेयी के हाथों में जाती है तो त्याग, तपस्या और बलिदान बन जाती है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 − 2 =