एकेटीयू में पहली बार होगी पोस्ट डॉक्टरल फेलोशिप की शुरूआत

– अभी तक पीएचडी पाठ्यक्रम की दी जाती थी उपाधि
लखनऊ। डा. एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय में अब पोस्ट डॉक्टरल फेलोशिप की शुरुआत हो जायेगी। ये निर्णय मंगलवार को विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. विनय सिंह अध्यक्षता में आयोजित कार्य परिषद की बैठक में लिया गया। इस बारे में जानकारी देते हुए कुलपति ने बताया कि विवि अभी तक पीएचडी पाठ्यक्रम की उपाधि प्रदान करता था। पहली बार है जब विवि पोस्ट डॉक्टरल फेलोशिप की शुरुआत कर रहा है। उन्होंने बताया कि विवि के निजी सम्बद्ध संस्थानों को विवि द्वारा संचालित पीएचडी फेलोशिप में शोधार्थी पंजीयन करने के प्रस्ताव को सहमति से स्वीकृत किया गया। अभी तक सिर्फ राजकीय, अनुदानित एवं घटक संस्थानों को ही विवि की पीएचडी फेलोशिप में शोधार्थी पंजीकृत कर सकते थे। वहीं एकेटीयू के अब प्रति कुलपति प्रो. विनीत कंसल को नियुक्त किया गया है।
दीक्षांत 16 अक्टूबर को जल पुरूष राजेन्द्र सिंह होंगे मुख्य अतिथि
एकेटीयू में इस बार दीक्षांत समारोह 16 अक्टूबर को मनाया जायेगा। इसके लिए मुख्य अतिथि का नाम भी तय हो चुका है। कुलपति ने बताया कि दीक्षांत समारोह में राजेंद्र सिंह जल पुरुष मुख्य अतिथि होंगे और उनको डीएससी की मानद उपाधि प्रदान की जाएगी।
दिवगंत प्रतिकुलपति के नाम पर होगा छात्रावास
कुलपति ने बताया कि विवि के दिवंगत पूर्व प्रतिकुलपति प्रो कैलाश नारायण उपाध्याय के नाम पर आईईटी, लखनऊ के एक छात्रावास का नामकरण किये जाने का निर्णय लिया गया। प्रो. कैलाश नारायण की इसी बीमारी के चलते मौत हो गयी थी।
इन पदों भी हुई नियुक्ति की घोषणा
कार्य परिषद की बैठक में विवि के डिप्टी कंट्रोलर ऑफ़ एग्जामिनेशन, डिप्टी लाइब्रेरियन और सहायक कुलसचिव के पदों पर हुयी भर्ती में चयनित हुए नामों की घोषणा की गयी, जसमें डिप्टी कंट्रोलर ऑफ़ एग्जामिनेशन में डॉ आशुतोष द्विवेदी, सहायक कुलसचिव पद पर शिवम गुप्ता और डिप्टी लाइब्रेरियन की पोस्ट एनएफएस घोषित हो गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × two =