इन्वेस्टर्स समिट का आज पीएम मोदी करेंगे उद्घाटन तो राष्ट्रपति कल करेंगे समापन, पढे ऐसा होगा पूरा कार्यक्रम

  • केन्द्रीय एवं  प्रदेश के मंत्री भी करेंगे समिट को सम्बोधित
  • इन्वेस्टर्स समिट में देश के कई बडे उद्योगपति लेंगे भाग

लखनऊ। उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट के सफल आयोजन के लिये सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। इन्वेस्टर्स समिट का आज 10 बजे पीएम नरेन्‍द्र मोदी उदघाटन करेंगे। और इन्वेस्टर्स भी आने शुरू हो गये हैं। ये जानकारी मंगलवार को प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री, सतीश महाना ने दी है। उन्होंने कहा कि इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित इन्वेस्टर्स समिट अपने में एक एतिहासिक समिट है, जिसकी सराहना देश और प्रदेश के ख्याति प्राप्त उद्योगपतियों ने की है। इस समिट में भभाग लेने के लिये उद्योगपति खुद ही आने के लिये उत्सुक हैं।

सात कन्ट्री पार्टनर भी भाग लेंगे

श्री महाना ने बताया कि उत्तर प्रदेश के समग्र विकास में अपना पूर्ण सहयोग देने के लिये सहमति देने वाले सात कन्ट्री पार्टनर भी भाग लेंगे। इनके लिये भी विशेष सत्र का आयोजन किया गया है। उन्होंने बताया कि कन्ट्री पार्टनर के रूप में फिनलैण्ड, नीदरलैण्ड, जापान, चेक गणराज्य, थाईलैण्ड, स्लोवाकिया तथा मॉरीशस के प्रतिनिधि और उद्योगपति शिरकत करेंगे।

दो दिवसीय इस समिट में कुल 3० सत्र रखे गये

उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में निवेश को आकृष्ट करने और उद्योगपतियों द्बारा प्रदेश के किसी भी क्षेत्र में उद्यम स्थापित करने के लिये समझौता पत्र भी हस्ताक्षरित किये जायेंगे। उन्होंने यह भी बताया कि राज्य सरकार ने उद्यमियों के हितपरक आकर्षक एवं व्यवहारिक औद्योगिक विकास नीति जारी की है। इसके साथ ही उद्यम स्थापना पर उद्योगपतियों को आवश्यक छूट और अन्य सुविधायें भी उपलब्ध कराने की प्रभावी पहल की गयी है। उन्होंने बताया कि दो दिवसीय इस समिट में कुल 3० सत्र रखे गये हैं।

                        इस तरह से होगी समिट की शुरूआत

  • -समिट का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 1० बजे करेंगे
  • -प्रधानमंत्री इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान प्रदर्शनी का भी शुभारम्भ करेंगे
  • -इसके बाद औद्योगिक विकास मंत्री स्वागत सम्बोधन करेंगे। -इन्वेस्टर्स समिट-2०18 की थीम पर प्रस्तुतिकरण किया जायेगा।
  • – समिट को देश के बडे उद्योगपति मुकेश अम्बानी, गौतम अडानी, सुभाष चन्द्रा, कुमार मंगलम, बिड़ला, आनन्द महेन्द्रा, पंकज पटेल, शोभना कामिनेनी, रशेष शाह तथा  एन चन्द्रशेखरन सम्बोधित करेंगे।
  • -मॉरीशस के पूर्व राष्ट्रपति, अनिरूद्घ जगन्नाथ अपने विचार रखेंगे।
  • -मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश के औद्योगिक विकास एवं उत्तर प्रदेश के समग्र विकास पर अपना सम्बोधन देंगे।
  • -प्रधानमंत्री की ओर से उद्घाटन सत्र को सम्बोधित किया जायेगा। मुख्य सचिव, राजीव कुमार को धन्यवाद ज्ञापित करेंगे।

     पहले दिन इन मंत्रियों के साथ सीएम योगी भी रखेंगे विचार

दो दिवसीय, 21-22 फरवरी को आयोजित इस समिट में पहले दिन औद्योगिक विकास नीति सत्र में ये मंत्री अपने विचार रखेंगे। जिसमें पर केन्द्रीय वाणिज्य व उद्योग मंत्री, सुरेश प्रभु एवं औद्योगिक विकास मंत्री, सतीश महाना, अवस्थापना विकास सत्र पर केन्द्रीय सड़क परिवहन मंत्री, नितिन गडकरी और सतीश महाना, सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग सत्र पर केन्द्रीय लघु उद्योग राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), गिरिराज सिह एवं प्रदेश के लघु उद्योग मंत्री, सत्यदेव पचौरी अपने विचार व्यक्त करेंगे। वहीं यूपी में इलेक्ट्रानिक सेक्टर के विकास सत्र को केन्द्रीय संचार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), मनोज सिन्हा और प्रदेश के आईटी राज्यमंत्री, मोहसिन रजा, कृषि खाद्य प्रसंस्करण एवं डेरी उद्योग सत्र को केन्द्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरसिमरत कौर बादल तथा प्रदेश के उप मुख्यमंत्री, केशव प्रसाद मौर्य व कृषि मंत्री, सूर्य प्रताप शाही, अक्षय ऊर्जा की असीमित संभवनाओं पर केन्द्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), राजकुमार सिह तथा प्रदेश के वैकल्पिक ऊर्जा मंत्री,ब्रजेश पाठक सम्बोधित करेंगे। हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग सत्र को केन्द्रीय वस्त्रोद्योग मंत्री, श्रीमती स्मृति इरानी तथा प्रदेश के वस्त्रोद्योग मंत्री सत्यदेव पचैरी, फार्मास्यूटिकल व बायोटेक्नोलॉजी सत्र को केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री, अनुप्रिया पटेल तथा प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री, सिद्घार्थ नाथ सिह, प्रदेश के पर्यटन एवं सांस्कृतिक विरासत सत्र को केन्द्रीय पर्यटन सचिव, रश्मि वर्मा एवं प्रदेश की पर्यटन मंत्री, रीता बहुगुणा जोशी, पर्यावरण एवं उद्योग सत्र को केन्द्रीय पर्यावरण राज्य मंत्री, डॉ महेश शर्मा तथा प्रदेश के वन एवं पर्यावरण मंत्री दारा सिह और औद्योगिक व आधारभभूत ढांचा सुरक्षा सत्र को केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिह और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सम्बोधित करेंगे।

                दूसरे दिन 22 फरवरी को ये मंत्री रखेंगे विचार

22 फरवरी, को आईटी सेक्टर के सत्र को केन्द्रीय सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद तथा उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा, सभी के लिये बैंक सत्र को केन्द्रीय वित्त मंत्री, अरूण जेटली और प्रदेश के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल, चर्म व जूता उद्योग सत्र को केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्यमंत्री, सीआर चौधरी तथा प्रदेश के लघु उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी सम्बोधित करेंगे। डिफेंस मैनुफैHरिग सत्र को केन्द्रीय रक्षा मंत्री, निर्मला सीतारमण एवं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, कौशल विकास सत्र को केन्द्रीय कौशल विकास मंत्री, धर्मेन्द्र प्रधान तथा प्रदेश के व्यवसायिक शिक्षा मंत्री, चेतन चैहान, कौशल विकास स्टार्टअप सत्र को विज्ञान एवं तकनीकी मंत्री, डॉ० हर्षवर्धन एवं उप मुख्यमंत्री डॉ० दिनेश शर्मा, नागरिक उड्डयन सत्र को केन्द्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री, पुष्पपति अशोक गजपति राजू एवं प्रदेश के नागरिक उड्डयन मंत्री, नन्द गोपाल ‘नंदी, एनआरआई सत्र को केन्द्रीय विदेश राज्यमंत्री, जनरल वीके सिह तथा प्रदेश के एनआरआई राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार),स्वाति सिह और मीडिया तथा मनोरंजन सत्र को सांसद, सुभाष चन्द्रा तथा प्रदेश के सूचना राज्यमंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी सम्बोधित करेंगे।

                    राष्ट्रपति करेंगे समापन, रखेंगे अपनी बात

उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट का समापन अपराह्न 4:3० बजे राष्ट्रपति, रामनाथ कोविद करेंगे। समापन सत्र में केन्द्रीय वित्त मंत्री, अरूण जेटली भी भाग लेंगे। इनके अतिरिक्त प्रदेश के राज्यपाल, राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भी समापन सत्र को सम्बोधित करेंगे। मुख्य सचिव, राजीव कुमार धन्यवाद देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × five =