पत्नी के हत्यारोपी अमनमणि त्रिपाठी की जमानत बरकरार, एससी ने दी राहत

न्यूज डेस्क। यूपी के निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी को अपनी पत्नी सारा सिंह के हत्या के आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने उनकी जमानत को बरकरार रखा है।
दरअसल अमनमणि जमानत पर पहले से चल रहे हैं। ऐसे में अमनमणि त्रिपाठी की जमानत के खिलाफ पत्नी सारा सिंह के परिवार वालों की ओर से जमानत के खिलाफ याचिका दायर की गयी थी। इस याचिका पर सुनवाई करते हुए बुधवार को सुप्रीम कोर्ट ने याचिका को रद्द करते हुए अमनमणि त्रिपाठी की जमानत को बरकरार रखा है।
कौन है अमनमणि त्रिपाठी
निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी अमरमणि त्रिपाठी का बेटा है। अमर मणि त्रिपाठी भी मधुमिता शुक्ला हत्याकांड में काफी समय से सजा काट रहे हैं।
अमनमणि के वकील ने अदालत को बतायी ये बात
बुधवार को याचिका पर सुनवाई के दौरान अमनमणि के वकील ने अदालत को बताया कि ये केस दुर्र्घटना से हुई मौैत का मामला है ऐसे में जो चश्मदीद गवाह है उसका भी यही है कि कार से दुर्र्घटना हुई है। जबकि जमानत के विरोध में कोर्ट को बताया गया कि यह एक हत्या है।
फोटो ग्राफ के आधार पर जमानत रद् करने की मांग
बताया जा रहा है जमानत र्द करने वाली याचिका में फोटो का हवाला दिया गया है। फोटो में सारा के गले में चोट के निशान हैं एक्सपर्ट ने इस बात की पुष्टि भी की है।
सीबीआई ने कहा सबूत पर्याप्त
वहीं सीबीआई ने सुप्रीकोर्ट से कहा है कि अमन मणि त्रिपाठी के खिलाफ उसके पास पर्याप्त सुबूत हैं। सीबीआई ने भी सुप्रीम कोर्ट से अमन मणि त्रिपाठी की की जमानत को रद्द करने की मांग की है। यही मांग मृतका सारा सिंह की माँ की ओर से भी कहा गया है कि जमानत रद् होनी चाहिए उसे लगातार धमकियां मिल रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 1 =