जरूरतमंद अभिभावकों को मिलेगी फीस में छूट, लेकिन सक्षम अभिभावक जमा करें फीस-अनिल अग्रवाल

निजी स्कूलो में पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों को फीस समय से जमा करनी होगी, लेकिन उन अभिभावकों को छूट दी जायेगी जो कोविड-19 के दौर में वाकई में परेशान हुए हैं, वह अभिभावक स्कूल प्रबंधन को अपनी समस्या बतायें तो उसका निराकरण किया जायेगा। ये घोषणा एनएडेड प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने की है। एसो​सिएशन के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल ने शहर के कई प्रतिष्ठित स्कूल प्रबंधनों के साथ मिलकर प्रेस कान्फ्रेंस कर स्थिति स्पष्ट करते हुए शुक्रवार को बताया कि कोरोना काल में स्थिति खराब हुई है, इसलिए हम सभी स्कूल प्रबंधनों ने निर्णय लिया है कि अपनी ओर से ओवआॅल फीस में 20 प्रतिशत तक छूट प्रदान करेंगे। लेकिन यहां पर अभिभावकों को दो बाते ध्यान रखनी होगी, छूट उन्हीं अभिभावकों को दी जायेगी जो छोटे और मंझोले बिजनेस करके अपना जीवन यापन करते थे और उनका बिजनेस अब नहीं चल पा रहा है, दूसरा कई स्कूल 20 प्रतिशत के अंदर अपने-अपने स्तर पर भी छूट दे सकते हैं जैसे कोई 10 प्रतिशत तो कोई 15 प्रतिशत भी छूट देगा तो उससे भी मानना होगा। श्री अग्रवाल ने कहा कि निजी स्कूल प्रबंधनों का 70 प्रतिशत बजट हर महीने शिक्षकों के वेतन पर और विद्यालय की रखरखाव में चला जाता है, वहीं 30 प्रतिशत में लोन व अन्य खर्चे निपटाने होते हैं।

सरकारी कर्मचारियो को कोई छूट नहीं
एसोसिएसशन की ओर से यह भी स्पष्ट किया गया कि वह सरकारी कर्मचारियों व अधिकारियों के बच्चों को कोई छूट नहीं दे पायेंगे, क्योंकि सभी कर्मचारियों व अधिकारियों को सरकार से वेतन मिल रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का भी उदाहरण देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने भी कोरोना काल में 80 करोड़ लोगों के लिए भोजन की व्यवस्था करने की बात कही, जबकि देश की जनसंख्या 135 करोड़ के करीब है।

सक्षम अभिभावक दस अगस्त तक जमा करें फीस
एसोसिएशन ने कहा कि हम उन अभिभावकों को धन्यवाद देना चाहते हैं जो कोरोना काल में समय से फीस जमा करते आये हैं, लेकिन कई ऐसे अभिभावक हैं जो सरकारी नौकरी करते हैं, और फीस में छूट का रास्ता देख रहे हैं तो ऐसे अभिभावकों से अपील की जाती है वह 10 अगस्त तक ​फीस जमा करें नहीं उनके बच्चों को आॅनलाइन एजुकेशन से वंचित कर दिया जायेगा।

इन मदो में दी गई राहत
कम से कम दस प्रतिशत अधिकतम छूट 20 प्रतिशत
पुराने बच्चों से एडमिशन फीस नहीं ली जाएगी।
नये बच्चे दाखिला लेते हैं तो एडमिशन फीस ली जायेगी। से ली जाएगी।
स्कूल बंद रहने की अवधि मेंटीनेंस चार्जेज
लाइब्रेरी शुल्क नहीं ली जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.