आईआईटी कानपुर नौबस्ता तक चलेगी मेट्रो, सीएम योगी ने कहा प्रदूषण मुक्त होगी यूपी की परिवहन सेवा

लखनऊ । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि शहरों में निवास करने वाली जनता को प्रदूषण रहित बेहतर परिवहन सुविधा उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार हरसंभव उपाय कर रही है। लखनऊ में मेट्रो का संचालन हो रहा है यहाँ इसका विस्तार भी किया जा रहा है। कानपुर में मेट्रो का आज शिलान्यास हो रहा है। इस परियोजना में पहले चरण में आईआईटी कानपुर से नौबस्ता तक मेट्रो स्टेशनों का निर्माण किया जाएगा। इस सेक्शन की कुल लम्बाई लगभग 9 किलोमीटर है। परियोजना के प्रथम सेक्शन पर लगभग 2000 करोड़ रुपए की लागत आने की सम्भावना है और इसे 30 नवंबर 2021 तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके अलावा छह शहरों आगरा मेरठ, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर के अलावा झांसी में भी मेट्रो रेल की शुरुआत की जाएगी।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में 12वीं अर्बन मोबिलिटी इंडिया (यूएमआई) कॉन्फ्रेंस एवं एक्सपो के उद्घाटन सत्र को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी देश की शहरी आबादी को बेहतर परिवहन सुुविधा एवं प्रदूषण रहित वातावरण उपलब्ध कराने के लिए भगीरथ प्रयास कर रहे है। उन्होंने कहा कि शहरी जीवन को बेहतर बनाने की दिशा में यह कॉन्फ्रेंस महत्वपूर्ण साबित होगी। उत्तर प्रदेश के लिए इस प्रकार के आयोजन और अधिक महत्व रखते हैं, क्योंकि राज्य के शहरी निकायों में प्रदेश की 23 प्रतिशत आबादी निवास करती है। उनको बेहतर सुविधाएं दिलाना वर्तमान राज्य सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 17 नगर निगम हैं, जिनमें 10 नगर निगम केन्द्र सरकार द्वारा स्मार्ट सिटी के रूप में चयनित हैं। शेष 7 नगर निगम को प्रदेश सरकार अपने संसाधनों से बेहतर बनाने की दिशा में कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज वातावरण बहुत प्रदूषित हो गया है। विगत दिनों पूरे देश में स्मॉग के खतरे दिखायी दे रहे थे। युवा पीढ़ी को बेहतर भविष्य देने के लिए आवश्यक है कि उन्हें प्रदूषण मुक्त वातावरण उपलब्ध कराया जाए। उन्होंने वैज्ञानिकों से आह्वान किया कि परिवहन के लिए ऐसी तकनीक विकसित करें, जो प्रदूषण रहित और सर्वसुलभ हो। राज्य सरकार द्वारा ‘उत्तर प्रदेश इलेक्ट्रिक व्हीकल्स मैन्युफैक्चरिंग एण्ड मोबिलिटी पॉलिसी-2019’ तैयार की गयी है, जिससे आमजन को बेहतर परिवहन सुविधाएं मिल सकें। देश में विद्युत चालित वाहनों के सबसे अधिक उपभोक्ता उत्तर प्रदेश में हैं। आज आवश्यकता इस बात की है कि लोगों को इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के लाभ के विषय में अवगत कराया जाए।
केन्द्रीय आवासन एवं शहरी कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि शहरी लोगों को बेहतर सुविधाएं देने में उत्तर प्रदेश ने काफी अच्छा कार्य किया है। संयुक्त राष्टï्र संघ के सतत विकास के लक्ष्यों को पूरा करने के लिए आवश्यक है कि लोगों को बेहतर प्रदूषण मुक्त परिवहन सुविधाएं दी जाएं, जिससे हम स्वस्थ वातावरण का निर्माण कर सकें। त्वरित परिवहन सेवाएं विकास के आवश्यक तत्वों में से एक है। आज इलेक्ट्रिक व्हीकल्स समय की मांग है। कार्यक्रम के अवसर पर मुख्यमंत्री ने पुस्तिका ‘स्टैण्डर्ड स्पेशिफिकेशन्स ऑफ लाइट अर्बन रेल ट्रांजिट सिस्टम मेट्रो लाइट’ का विमोचन किया। इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान आयोजित प्रदर्शनी का उद्घाटन भी किया। केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के अपर सचिव के. संजय मूर्ति ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।
दूसरी ओर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने केन्द्रीय आवासन और शहरी कार्य राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी के साथ शुक्रवार को कानपुर स्थित आईआईटी गेट के सामने मेट्रो रेल परियोजना के निर्माण का शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि इससे कानपुर निवासियों को काफी सहुलियत होगी। आने वाले समय में सरकार अन्य शहरों में मेट्रो चलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × one =