छात्राओं को कौन सा विषय पढ़ाया, मैडम नहीं दे सकी जवाब, नाराज लखनऊ CDO ने चार शिक्षकों का वेतन काटने का दिया आदेश 

 राजधानी के सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता के साथ-साथ मूलभूत सुविधाओं को लेकर अलर्ट मुख्य विकास अधिकारी ने माल क्षेत्र में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान विद्यालयों की काउंड्रीवाल से लेकर भी मूलभूत सुविधाओ की स्थिति को देखा। इस दौरान सीडीओ ने ऑनलाइन शिक्षा की गुणवत्ता परखी और शिक्षकों से पूछा छात्राओं को किस विषय वस्तु के बारे में पढ़ाया ताे इसका वह जवाब नहीं दे पायी। सीडीओ कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय माल का निरीक्षण करने के लिए पहुंचे थे, विद्यालय के कक्षा-कक्ष, शयन कक्ष एवं स्मार्ट क्लास का निरीक्षण किया गया, जिसे संतोषजनक स्थिति में पाया गया। विद्यालय की शिक्षकाओं से आॅन-लाईन शिक्षण के बारे में जानकारी  ली गयी। इस दौरान छात्राओं को दी जाने वाली शिक्षा विषय के बारे में पूछा गया जिसका संतोषजनक उत्तर न दे पाने के कारण चार षिक्षिकाओं का एक दिन का मानदेय रोकने के लिए बीएसए को आदेश जारी किया है। इसके साथ ही मनरेगा कन्वर्जन से कायाकल्प के अन्तर्गत विद्यालय की चहारदीवारी की मरम्मत कराये जाने के लिए खण्ड विकास अधिकारी माल को निर्देश भी दिया।

मनरेगा का कार्य देख भी हुए नाराज, रोजगार सेवा का वेतन रोकने का निर्देश

सीडीओ ने पंचायत से कराये जा रहे कार्यो की गुणवत्ता को भी  जहां सहायक विकास अधिकारी (पंचायत) कक्ष के बगल में बनाये जा रहे 2 अतिरिक्त कक्ष में गुणवत्ता सुधार के सम्बन्ध में खण्ड विकास अधिकारी माल को निर्देश दिये गये। ग्राम पंचायत मसीढा हमीर में पोषण वाटिका का निरीक्षण किया गया, जिसमें लगाये गये बोरिंग को पक्का कराने के निर्देश खण्ड विकास अधिकारी माल को दिये गये। ग्राम पंचायत करेन्द में गौशाला का निरीक्षण किया गया। गौशाला में भूसा रखने हेतु शेड तथा गौ कास्ट मशीन के ऊपर शेड बनाये जाने हेतु निर्देश दिये गये तथा गौशाला में खाली पड़ी जमीन पर गोवंश के लिए हरा चारा लगाने के निर्देश खण्ड विकास अधिकारी को दिये गये। मनरेगा के कार्यो का निरीक्षण किया गया। मनरेगा का कार्य संतोषजनक न पाये जाने पर रोजगार सेवक का वेतन रोकने के निर्देश खण्ड विकास अधिकारी माल को दिये गये।