स्मार्ट सिटी की तरह गांव भी बनेंगे स्मार्ट, सीएम योगी का निर्णय

file
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को गोरखपुर में कैम्पियरगंज तहसील के ग्राम बान (बडय़ा ठाठर) में पीपीगंज मेहदावल मार्ग पर राप्ती नदी सेतु बडय़ा ठाठर का लोकार्पण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि अब यूपी में स्मार्ट सिटी की तरह ही ग्रामों को भी स्मार्ट गांव के रूप में विकसित किया जाएगा। उन्होंने गोरखपुर एवं संतकबीरनगर की 14863.91 लाख रुपए की कुल 09 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 3056.21 लाख रुपए की 05 परियोजनाओं का शिलान्यास किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गोरखपुर एवं संतकबीरनगर के आस पास के नागरिकों की वर्षों पुरानी मांग आज पूरी हो गयी है। इस पुल के बन जाने से आस-पास के लोगों को काफी सहूलियत होगी और क्षेत्र का विकास होगा। उन्होंने कहा कि विकास की सोच की परिकल्पना वर्ष 2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने की थी। विकास का कोई विकल्प नहीं होता तथा विकास से ही लोगों के जीवन में बदलाव लाया जा सकता है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि विगत ढाई वर्षों में प्रदेश सरकार द्वारा सौभाग्य योजना एवं पंडित दीन दयाल ग्राम ज्योति योजना के तहत गांव-गांव में बिजली पहुंच रही है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा गरीबों को आवास, राशन कार्ड, शौचालय, आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख तक का मुफ्त इलाज की सुविधा उपलब्ध करायी जा रही है। किसानों को उनकी फसल तथा गन्ना मूल्य का समय से भुगतान कराया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि 15 नए मेडिकल कॉलेज बन रहे हैं और इस सत्र में 14 नए मेडिकल कालेजों को स्वीकृति के लिये प्रस्ताव भेज दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपद संतकबीरनगर के बखिरा एवं बेलहर को नगर पंचायत बनाने के लिए स्वीकृति प्रदान कर दी गयी है। नगर पंचायत बनने से क्षेत्र की बुनियादी सुविधाओं में वृद्धि होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − 4 =