राजधानी में इस साल पांचवी बार तेंदुए ने दी दस्तक, गोसाईगंज में मचा हड़कंप

google imege

लखनऊ। लखनऊ में इस साल पांचवी बार तेंदुए ने दस्तक दी है। लेकिन तेंदुए को पकड़ने के लिए लापरवाह वन विभाग की टीम की पोल हर बार खुली है। इस बार तेंदुआ गोसाईगंज में देखा गया। जबकि इससे पहले ठाकुरगंज, मड़ियांव, चिनहट और आशियाना में तेंदुए को पकड़ा गया। सोमवार को गोसाईगंज के मल्लूख्ोड़ा में सड़क के नीचे करीब 4० फीट लंबे टनल में तेंदुआ घुसा हुआ था। मल्लूख्ोड़ा निवासी आनंद सुबह ख्ोत से लौट रहे थ्ो तभी उसने एक चितकबरे जीव को टनल के अंदर घुसते हुए देखा। उसने तुंरत शोर मचाया और गांव के कई लोग एकत्र हो गये। पुलिस को सूचना दी गयी। मौके पर पहुंचे गोसाईगंज थाना प्रभारी विद्यासागर सोनकर और अर्जुन देव ने भी देखा तो वहां पहले से सड़क बनाने का काम कर रही जेसीबी मशीन से टनल का मुंह बंद करवा दिया। फिर वन विभाग को सूचना दी गयी।
4० फिट अंदर घुसा ब्ौठा था 5० किलो वजनी तेंदुआ
मौके पर पहुंचे लखनऊ जू के उपनिदेशक डा. उत्कर्ष शुक्ला ने बताया कि तेंदुए का वजन करीब 5० किलो है। टनल के अंदर तेंदुए को देख भी लिया गया है। उन्होंने बताया कि टीम ने पहले उसे निकालने के लिए पटाखों का सहारा लिया करीब 12 बार दागे गये पटाखों के बाद भी वह बाहर नहीं निकला , लेकिन टनल में धुआं इतना भर गया कि तेंदुआ दिखना बंद हो गया।
साढ़े दस बजे रात तक तेंदुए को पकड़ने की जारी रही कोशिश
वन विभाग की टीम को किसी भी प्रकार से सफलता नहीं मिली। जबकि तेंदुए को देखे हुए अब तक 15 घंटे का समय बीत चुका था। टीम ने सुरंग में मोटा रस्सा डालकर उसे निकालने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली। वन विभाग की टीम साढ़े दस बजे रात तक संघर्ष करती रही। हालांकि वन विभाग की टीम का कहना है कि जल्द ही उसे पकड़ लिया जायेगा।
वन विभाग टीम और पुलिस की भी दिखी लापरवाही
मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम और पुलिस की भी लापरवाही देखने को मिली। वन विभाग की टीम जहां 6 बजे शाम तक तेदुएं की पुष्टि की तो वहीं पुलिस स्थानीय लोगों को दूर खदेड़ने में नाकाम रही। लोग शोर मचाते रहे। लेकिन किसी भी वहां से हटाया नहीं गया। इसके अलावा वन विभाग की टीम पिंजरा तक नहीं समय से रख सकी। हालांकि इस लापरवाही को आशियाना में तेंदुए की मौत की घटना से जोड़कर देखा जा रहा है। वहां पर तेंदुए की मौत गोली लगने से हो गयी थी जिसमें कई अधिकारियों को जवाब देना पड़ा था। इस बारे में मुख्य वन सरंक्षक अवध प्रभाग के प्रवीण राय ने बताया कि तेंदुए की जान को देखते हुए टीम काफी सावधानी से उसे पकड़ने का प्रयास कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × five =