मतदाता सूची में खामियों को लेकर होगी जांच, आदेश जारी

लखनऊ। रविवार को राजधानी में संपन्न हुए चुनाव के दौरान कई आम और खास के नाम वोटर लिस्ट से गायब थे। इस बात से नाराज लोगों ने जिला प्रशासन को तो कोसा ही कुछ जगहों पर हंगामा भी किया। यहां तक कई लोग ऐसे भी थे जिन्होंने अपना गुस्सा फेसबुक और ट्वीटर पर भी उतारा। जिसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने मामले को संज्ञान में लेकर जांच के आदेश दिए हैं। साथ ही दोषियों पर सख्त कार्रवाई करने के लिए भी कहा है। ये जांच मंडलायुक्त अनिल गर्ग को करनी है उसके बाद जांच रिपोर्ट भी 15 दिन में प्रस्तुत करनी होगी। दरअसल रविवार नगर निकाय चुनाव के दूसरे चरण का मतदान पूरा हुआ। जिसमें राजधानी के नगर निगम, नगर पालिका और नगर पंचायत के चुनावों में बड़ी संख्या में लोगों ने मतदाता सूची में नाम न होने की शिकायत की थी। भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व एमएसएमई मंत्री कलराज मिश्र और लखनऊ के पूर्व मेयर दाऊ जी गुप्त जैसी बड़ी हस्तियों के नाम भी मतदाता सूची से गायब मिले थे। उसके बाद फेसबुक से लेकर ट्वीटर और व्हाट्सऐप पर लोगों को आक्रोश दिखा जिसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने जांच के आदेश मंडलायुक्त को दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve − 5 =